Ads (728x90)

भिवंडी। एम हुसेन ।भिवंडी तालुुका की  प्रसिद्ध  साईसेवा शिक्षण प्रसारक मंडल द्वारा संचालित राहनाल ,अंजुरफाटा स्थित श्री.महादेव बाबुराव चौघुले कनिष्ठ महाविद्यालय अंतर्गत पंडीत बाबुराव चौघुले बी - फार्मेसी  महाविद्यालय को शासन द्वारा मान्यता प्राप्त हुई है। शासन मान्यता भिवंडी का यह एकमेव बी - फार्मेसी महाविद्यालय होने सेे तालुका के फार्मेसी में प्रवेश लेेने वाले  विद्यार्थियों में भारी उत्साह का वातावरण व्याप्त है।गौरतलब है कि भिवंडी कपडा उद्योग  का मांचेस्टर माना जाता है तथा बड़े पैमाने पर गोदाम पट्टा व २१८ से अधिक गावपाडे वाले भिवंडी तालुुुका में  फार्मेसी महाविद्यालय नहीं होने के कारण विद्यार्थियों को ठाणे ,मुंबई आदि क्षेत्रों में जाना  पडता था।जिसकारण  विद्यार्थी व पालकों को आर्थिक,मानसिक व शारीरिक परेशानी का सामना करना पडता था। उक्त सभी अडचणो को  शासन तक  पहुंचाना आवश्यक था इसलिए सभी शासकीय अनुमति के लिए पत्र व्यवहार  करते हुए मुंबई से दिल्ली तक  सभी स्थानों पर नियमानुसार  पत्र व्यवहार कर के  पंडीत बाबुराव चौघुले बी - फार्मेसी महाविद्याल की मान्यता प्राप्त करने में सफल हुुए हैं  इस  प्रकार की प्रतिक्रिया संस्थापक अध्यक्ष महादेव चौघुले ने दी है। इसी प्रकार  फार्मेसी महाविद्याल में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया शुरु है जिसमें तालुका के साथ ही जिले के फार्मेसी हेतु प्रवेश लेने वाले इच्छुक सभी विद्यार्थी अपने ऑनलाइन आवेदन भरेें इस प्रकार का आवाहन पंडीत चौघुले ने  किया है। फार्मेसी महाविद्यालय का शासकीय मान्यता विषयी उद्घोषणा करने के लिए कॉलेज सभाागृह में आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में शिवसेना तालुका प्रमुख विश्वास थले,राष्ट्रवादी  कांग्रेस पार्टी के तालुका अध्यक्ष गणेश गुलवी,संस्थापक अध्यक्ष महादेव चौघुले,पंडीत चौघुले, शामराव चौघुले,सुभाष चौघुले,नागरिक बैंक के पूर्व संचालक कमलाकर टावरे,सचिव इंद्रपाल चौघुले,राष्ट्रवादी जिला युवक काँग्रेस अध्यक्ष महेंद्र पाटील,उपाध्यक्ष अनिल पाटील,एसबीआय बैंक अंजुरफाटा शाखा के व्यवस्थापक प्रथम डोके,प्राचार्य डॉ.विनायक दहिवले तथा शिक्षक,विद्यार्थी भारी संख्या में  उपस्थित थे। इसी प्रकार उक्त कार्यक्रम में मेघावी विद्यार्थियों का सत्कार किया गया। उक्त कार्यक्रम का संचालन प्राध्यापक विठ्ठल दिवेकर ने किया ।

Post a comment

Blogger