Ads (728x90)

संवाददाता, भिवंडी । मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन  द्वारा आयोजित की गई महत्वपूर्ण बैठक में  मुफ्ती  सैय्यद मो हुजैफा ने कहा कि हम देश को बचाना चाहते हैं। हम देश  भर में अमन शांति व भाईचारा कायम रखना चाहते हैं । हमारे लिए यह गर्व की बात है कि अन्य राज्यों की अपेक्षा महाराष्ट्र में अमन शांति है, यहां मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं नहीं है, क्योंकि इन सब घटनाओं को लेकर पुलिस प्रशासन गंभीर रूप से चिंतित है। जो लोग गलत करना चाहते हैं हम सभी को मिलकर उसे हरसंभव प्रयास कर रोकना होगा। समाज में गलत अफवाहों को फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए और नागरिकों को भी सच्चाई जाने बगैर अफवाहों पर न विश्वास करना चाहिए और न ही ध्यान देना चाहिए ।
                       मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं को रोकने के लिए भिवंडी पुलिस की ओर से एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत शांतिनगर पुलिस स्टेशन में एक महत्वपूर्ण विशेष बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें भिवंडी पूर्व विभाग के सहायक पुलिस आयुक्त नितिन कौसडीकर ,शांतिनगर पुलिस स्टेशन की वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ममता लारेंस डिसूजा, पुलिस निरीक्षक किरण कबाड़ी, मुफ्ती सैय्यद मो हुजैफा के साथ भारी संख्या में मौलाना, हाफिज, मस्जिद के माम, मस्जिद के ट्रस्टी, नगरसेवक, पुलिस शांतता  कमेटी के सदस्य महिला और पुरुष शामिल थे। इस बैठक को संबोधित करते हुए भिवंडी पूर्व विभाग के सहायक पुलिस आयुक्त नितिन कौसडीकर ने कहा की हम सभी को सतर्क रहना बहुत जरूरी है। ऐसी घटनाओं को लेकर वातावरण खराब नहीं होना चाहिए। माब लिंचिंग जैसी घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा किया जाना जरूरी है। इस प्रकार की घटनाएं कई बार गलत अफवाहों के कारण फैलती हैं इसलिए सभी को अफवाहों पर ध्यान न देकर उसकी सच्चाई को जानना जरूरी है। किसी भी धर्म के नागरिक के विरुद्ध इस प्रकार की घटनाओं को कदापि बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस प्रकार की घटनाओं  के विरुद्ध पुलिस सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी। सोशल मीडिया पर गलत तरीके की पोस्ट भेजी जा रही है। जिनमें से अधिकांश पोस्ट एडिट की हुई होती हैं ।  इस प्रकार की अफवाहें समाज मे नफरत फैलाने का काम कर रही है। जिसे रोकने के लिए पुलिस के सामने बड़ी चुनौती है, पुलिस विभाग का साइबर सेल ब्रांच तथा डीसीपी ऑफिस में मीडिया सेल ब्रांच इन सब मामलों की जांच कर रहा है। दोषी पाए जाने वाले लोगों के विरुद्ध पुलिस अपने तरीके से कड़ी कार्रवाई करेगी। उसी के साथ हम सब शांतिप्रिय नागरिकों का यह कर्तव्य है कि यदि इस प्रकार की कोई  घटना कहीं से भी सामने आती है तो उसकी जानकारी पुलिस तक अवश्य पहुंचाएं। पुलिस हर हाल में इस प्रकार की घटनाओं को पर कड़ी कार्रवाई करेगी।वहीं पूरे बल के साथ यह भी स्पष्ट कर दिया है कि किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है यदि कोई ऐसा करता है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।


Post a comment

Blogger