Ads (728x90)

-किसी प्रकार की  जनहानि नहीं हुई

 भिवंडी। एम हुसेन ।पिछले पांच दिनों से  हो रही मूसलाधार बारिश के कारण  मंगलवार को भिवंडी में थोड़ी राहत जरूर मिली, लेकिन भूस्खलन के चलते साठेनगर पहाड़ी क्षेत्र के तीन घर गिरकर बगल के दो घरों पर भरभराकर गिर गए  जिसकारण पांच घरों का आर्थिक नुकसान हो गया  परंतु किसी प्रकार की कोई जनहानि नहीं हुई। भूस्खलन की सूचना मिलते ही नारपोली पुलिस सहित मनपा आपातकालीन विभाग एवं अग्निशमन दल के कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गए थे।   
  ज्ञात हो कि साठेनगर पहाड़ी  पर रामनगर झोपड़पट्टी स्थित  सैकड़ों घर पहाड़ी के निचले ओर बनाए गए  हैं, जहां तेज बारिश के दौरान हमेशा भूस्खलन का खतरा बना रहता है। रामनगर के पद्माकर पवार मंगलवार की सुबह काम पर जाने के लिए घर से बाहर निकल ही रहे थे कि उसी समय उनके घर की दीवार गिरने की आवाज उन्हें सुनाई दी। गिरने की आवाज सुनते ही उन्होंने घर के अन्य सदस्यों को तुरंत घर से निकालकर बाहर किया। लोगों के बाहर करते ही दो घर भरभराकर बगल के तीन घरों पर गिर गए। संयोग से उन घरों में भी रहने वाले परिवार दीवार गिरने की आवाज़ सुनते ही बाहर निकल  गए थे जिसकारण पांच घरों का आर्थिक नुकसान तो हुआ है लेकिन किसी प्रकार की कोई जनहानि नहीं हुई। भूस्खलन की सूचना मिलते ही तुरंत नारपोली पुलिस सहित मनपा आपातकालीन विभाग एवं अग्निशमन दल के कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गए थे और बचाव कार्य पूरा किया। 

Post a comment

Blogger