Ads (728x90)

शहर सहित नदीनाका व खाडीपार क्षेत्र के सैकड़ों घरों में भरा पानी ,जनजीवन अस्त-व्यस्त 

   संवाददाता ,भिवंडी।पिछले तीन दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश के कारण भिवंडी सहित आसपास के क्षेत्रो में पानी ही पानी होने के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। नालों की सफाई एवं सड़कों का काम पूरा न होने के कारण शहर सहित नदीनाका व खाडीपार  क्षेत्र के सैकड़ों घरों में पानी भर गया है।शहर के रफीक नगर क्षेत्र में तीन से चार फिट पानी भरा हुआ है। घरों में पानी भरने से वहां के नागरिकों में भय का वातावरण व्याप्त है।नालों की सफाई न होने के कारण ,कल्याण रोड,तीनबत्ती बाज़ार,भाजी मार्केट,निजामपुरा,पद्मानगर,कमला होटल,जैतूनपुरा,मंगल बाज़ार स्लैब,कामतघर,बालाकंपाउंड,ईदगाह रोड सहित अन्य क्षेत्रों के सैकड़ों घरों एवं दुकानों में अचानक पानी भर जाने के कारण लोगों का भारी आर्थिक नुकसान हुआ है।कुछ समय के लिए बारिश बंद होने के कारण जहां अधिकांश क्षेत्रो  से पानी निकल गया है। वहीं रफीक कंपाउंड व खाडीपार के घरों में पानी भरा हुआ है। जहां मनपा प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की कोई आपातकालीन व्यवस्था नहीं की गई है। लेकिन वहां के नागरिक सहायता की प्रतीक्षा में समय बिता रहे हैं। क्योंकि बारिश से पहले मनपा ने बाढ़ से प्रभावित लोगों की  हरसंभव सहायता के लिए विश्वास दिलाया था। ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायत सहित राजस्व विभाग द्वारा किसी प्रकार की आपातकालीन सहायता न मिलने के कारण पानी भरे घरों में अपनी जान हथेली में रखकर पलंग पर बैठकर रात बिताने के लिए लोग मजबूर हो गए हैं।
    ड्रेनेज लाइन डालने के लिए सड़कों की खोदाई करने के बाद उसे न बनाए जाने के कारण उसमें गाड़ियों के फंसने का सिलसिला बना हुआ है।भंडारी रोड स्थित टावरे कंपाउंड से होकर जा रही एक ट्रक उसमें धंस गई है।  जिसे जेसीबी बुलाकर घंटो कड़ी मशक्क्त के बाद निकाला गया है। सड़क मरम्मत न होने के कारण कल्याण रोड स्थित आनंद होटल के पास जहां कई फिट पानी भरा रहा। वहीं कल्याण नाका के पास जेएमडी कलेक्शन सहित आसपास की कई दुकानों में पानी भर गया था। जेएमडी कलेक्शन के सुभाष गुप्ता ने बताया कि दुकानों में पानी भरने के कारण दुकानदारों का भारी आर्थिक नुकसान हुआ है। इसी प्रकार कमला होटल   क्षेत्र में पानी भरा रहा।कमला होटल स्थित जैन मंदिर परिसर में भी पानी भर  गया था।नालों की सफाई एवं सड़क की मरम्मत न होने के कारण भंडारी रोड स्थित देवनगर क्षेत्र की सड़क पर पानी  इतना भर गया था कि वहां रस्सा लगाकर लोगों को आने जाने से रोकना पड़ा था।वहां के लोगों ने बताया कि लगभग तीन से चार फिट पानी भरने के कारण सड़क एवं नाले का गंदा पानी लोगों के घरों एवं दुकानों में भर गया है।
   भिवंडी मनपा की सीमा से लगे कामवारी नदी के भर जाने के कारण नदी के किनारे के घरों में पानी भर गया है। 24 घंटे से लगातार बारिश होने के कारण रफीक कंपाउंड व खाडीपार के सैकड़ों घरों में पानी भर गया।पानी की निकासी न होने के कारण देखते ही देखते रफीक नगर व खाडीपार के घरों में तीन से चार फिट तक पानी भर गया। यहां के लोगों के पास रहने के लिए कोई अन्य व्यवस्था न होने के कारण राशन सहित उनके गृहस्थी का सारा सामान भींग गया है।प्रशासन द्वारा इनके लिए कोई वयवस्था नहीं की गई है।ग्राम पंचायत सहित राजस्व विभाग द्वारा 24 घंटा बीत जाने के बाद भी इनके लिए कोई आपातकालीन वयवस्था नहीं की गई थी । यहां  रहने वाले अर्जुन गुप्ता ने बताया कि प्रशासन की लापरवाही के कारण यहां के लोग हर साल बारिश से प्रभावित होते हैं।
 यहां के नागरिकों ने बताया कि पूरे क्षेत्र में पानी भरने के बावजूद यहां की बिजली आपूर्ति भी खंडित नहीं की गई थी। बिजली आपूर्ति शुरू रहने के कारण यदि पानी में बिजली उतरने से किसी प्रकार की दुर्घटना होती तो उसका जिम्मेदार कौन होता ? 
   शेलार ग्राम पंचायत के नालों की सफाई कभी भी न होने के कारण नदी का पानी सड़क पर बह रहा है। नागरिकों को घुटने भर पानी से होकर आना जाना पड़ रहा है।शेलार स्थित भिवंडी-वाड़ा रोड पर पानी भर जाने के कारण यातायात बाधित हो गई थी। सड़क पर पानी बहने के कारण उसमें फंसकर कई मोटर साइकिलें बंद पड़ गई थी।बारिश के दौरान यातायात पुलिस भी नहीं थी जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा है जो एक गंभीर समस्या बनी हुई है  ।   

Post a comment

Blogger