Ads (728x90)

एम हुसेन। शहर के वंजारपट्टी नाका स्थित सुप्रीम अस्पताल में 5.09 किलोग्राम वजन की एक बच्ची का जन्म हुआ  है जिससे  आमजनों सहित चिकित्सकों के बीच भी चर्चा का विषय बना हुआ  है।
     प्राप्त जानकारी के अनुसार कोटरगेट निवासी पावरलूम मुकादम एजाज मोमिन की 38 वर्षीय पत्नी शमशाद बेगम को 3 बेटों के बाद 17 जून को रात 12 बजे एक बच्ची ने जन्म लिया है  जिसका वजन 5.09 किग्रा है। एजाज दंपति को 17, 15 और 8 वर्ष के 3 बेटों के बाद एक बेटी  हुई है। शमशाद बेगम शुगर की मरीज हैं। लंबे अंतराल के बाद बेटी  जन्म  को लेकर माता पिता दोनों में अपार हर्ष व्याप्त हैं।  
     सप्रीम अस्पताल की चिकित्सक डॉ. सुप्रिया अरवारी के अनुसार 9 महीने पूरे कर समय पर जन्म लेने वाले नवजात शिशु का आदर्श वजन 2.7 किग्रा से लेकर 4.1 किग्रा तक होना चाहिए। जबकि औसतन शिशु का वजन 3.5 किग्रा होता है। इसी प्रकार जिस नवजात शिशु का वजन जन्म के समय 2.5 किग्रा या इससे कम रहता है, ऐसे शिशु को कम वजन शिशु (लो बर्थ वेट) माना जाता है और जिसका वजन जन्म के समय 4 किग्रा या इससे अधिक होता है ऐसे शिशु को सामान्य से बड़ा माना जाता है और इन्हे माक्रोसोमिया (macrosomia) शब्द से परिभाषित किया जाता है। यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि शिशु के माता पिता की लंबाई और कद-काठी क्या है। अधिकांश परिस्थितियोँ में ऐसे बच्चे उन माताओं से जन्मते हैं जिन्हे गर्भावस्थ के दौरान गर्भावधि मधुमेह (gestational diabetes) हो गया हो।

Post a comment

Blogger