Ads (728x90)

संवाददाता,भिवंडी। कोलकाता में हुई डॉक्टरों के साथ मारपीट की घटना को लेकर  भिवंडी के डॉक्टरों ने कड़ा विरोध किया है।भिवंडी के इदिरा गाधी उपजिला अस्पताल सहित शहर के लगभग 250 डॉक्टरों ने काला फीता  बाधकर कडा विरोध व्यक्त किया है। इंडियन मेडिकल एसोशिएशन भिवंडी की  अध्यक्ष डॉ. उज्ज्वला बद्रापुरकर के नेतृत्व में डॉक्टरों के एक शिष्टमंडल ने तहसीलदार कार्यालय में जाकर उस घटना की कड़ी निंदा करते हुए ज्ञापन सौंपा।डॉक्टरों द्वारा दिए गए ज्ञापन में कहा है कि पुल टूट जाने के बाद किसी इंजीनियर के साथ मारपीट नहीं की जाती है, खराब सड़क बनाने वाले ठेकेदार के साथ मारपीट नहीं की जाती है लेकिन डॉक्टरों के साथ मारपीट की जाती है । डॉक्टर भी इंसान ही हैं कोई भगवान नहीं हैं। इंडियन मेडिकल एसोशिएशन भिवंडी की  अध्यक्ष डॉ. उज्ज्वला बद्रापुरकर ने डॉक्टरों पर हमला करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग की है। उक्त
 शिष्टमंडल में डॉ.मिलन शाह,डॉ.मनोहर अरवारी,डॉ.सुप्रिया अरवारी,डॉ.फहाद मोमिन,डॉ.संजीवकुमार गायकवाड़,डॉ.श्रीपाल जैन,डॉ,रूपल जैन,डॉ.चारुलता जैन सहित अन्य डॉक्टर शामिल थे ।
   इदिरा गांधी उपजिला अस्पताल के चिकित्साधीक्षक डॉ.अनिल थोरात ने बताया  कि मरीजों को कोई परेशानी न हो इसके लिए सभी डॉक्टरों ने इस घटना का कड़ा विरोध करते हुए अपना कामकाज जारी रखा। 

Post a comment

Blogger