Ads (728x90)

मुंबई, दि 1: महाराष्ट्र राज्य स्थापना के 59 वें वर्धापन दिन के अवसर पर विधान भवन, मुंबई में महाराष्ट्र विधान परिषद के सभापति रामराजे नाईक-निंबालकर के हाथों एवं महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष  हरिभाऊ बागडे की प्रमुख उपस्थिति में आज सुबह 09.30 बजे ध्वजारोहण कार्यक्रम संपन्न हुआ।

इस अवसर पर उपस्थित सभी मान्यवरों का शहनाई -चौघडा एवं तुतारी के जयघोष में पारंपारिक मराठी पद्धति से स्वागत किया गया।

कार्यक्रम में सभापति रामराजे नाईक-निंबालकर, अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने महाराष्ट्र राज्य निर्माण के लिए हुए जनआंदोलन के सभी नेताओं के त्याग का कृतज्ञतापूर्वक स्मरण करते हुए इस जनआंदोलन में शहीद सभी की पवित्र स्मृति को अभिवादन किया।

महाराष्ट्र यह देश स्तर पर एक अग्रगण्य राज्य है और यह कीर्ति आगे भी कायम रहने के लिए सभी ने कार्यतत्पर होना चाहिए, यह बताते हुए सभापति रामराजे नाईक- निंबालकर ने अपने संदेश में वर्तमान परिस्थिति के गांभीर्य को ध्यान में रखते हुए पानी की बर्बादी को टालने, उपलब्ध जलसंचय का योग्य पद्धति से नियोजन करते हुए जल साक्षरता यह संकल्पना सभी ने सफलतापूर्वक चलाने का आवाहन किया। उन्होंने इस दौरान राज्य की जनता को महाराष्ट्र दिन एवं कामगार दिन की हार्दिक शुभकामनाएँ दी।

 ध्वजारोहण समारोह में महाराष्ट्र विधान परिषद की सदस्या डॉ. (श्रीमती) निलम गोऱ्हे, महाराष्ट्र विधिमंडल के सचिव जितेंद्र भोले, सह सचिव विलास आठवले, उप सचिव राजेश तारवी, नागनाथ थिटे, मा. सभापति के सचिव महेंद्र काज, मा. अध्यक्ष के सचिव राजकुमार सागर समेत  विधानमंडल के अधिकारी एवं कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। इस अवसर पर विधिमंडल के  मुख्य सुरक्षा अधिकारी प्रवीण पाटिल के नेतृत्व में टीम ने सलामी दी।

Post a comment

Blogger