Ads (728x90)

भिवंडी तालुका का टोल नाका बंद हेतु आम सभा में एकमत प्रस्ताव मंजूर

संवाददाता, भिवंडी ।भिवंडी तालुका के ग्रामीण क्षेत्रों में के मुख्य सड़कों पर जब तक गड्ढा मुक्त सड़क मरम्मत का काम पूरा नहीं हो जाता उस समय तक तालुका के ग्रामीण क्षेत्रों में टोल वसूली बंद की जाए, इस प्रकार का प्रस्ताव ग्रामीण क्षेत्र में आयोजित आमसभा में मंजूर किया गया है।
               ज्ञात हो कि भिवंडी ग्रामीण विधानसभा  क्षेत्र में शिवसेना  विधायक शांताराम मोरे की अध्यक्षता में सोमवार को भिवंडी तालुका के दुगाड़ फाटा में भिवंडी कृषि उत्पन्न बाजार समिति के उप बाजार सभागृह में आमसभा का आयोजन किया गया था। उक्त आम सभा में सचिव पंचायत समिति, विकास अधिकारी अशोक सोनटक्के, तहसीलदार शशीकांत गायकवाड, पंचायत समिति सभापति रवीना जाधव सहित सार्वजनिक बांधकाम विभाग, ज़ल आपूर्ति विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत महावितरण कंपनी, कृषि विभाग, वन विभाग ,आदि सरकारी विभाग के अधिकारी ,पंचायत समिति सदस्य व आम नागरिक भारी संख्या में उपस्थित थे।उक्त सभा में पिछले सभा के प्रस्ताव को मंजूरी देने के बाद भाजपा के प्रदेश प्रतिनिधि रामनाथ पाटिल ने भिवंडी- वाड़ा व भिवंडी- वसई पर बने दो टोल नाकों की सड़कें  पूरी तरह खराब और गड्ढे मय  हो गई हैं, जब तक इन रास्तों की ठेकेदार सुप्रीम इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी पूरी तरह ठीक नहीं करेगी उस समय तक कंपनी आनगांव व मालोडी दोनों टोल नाके पर टोल वसूली पूरी तरह बंद करे ।भाजपा नेता रामनाथ पाटिल के प्रस्ताव पर उपस्थित सभी नागरिकों ने सरकारी अधिकारियों के समक्ष एकमत से प्रस्ताव पास कर दिया।  इसी सभा में भाईदास जाधव ने पीडब्ल्यूडी विभाग की ओर से भिवंडी वाड़ा रोड पर प्रत्येक चौराहों पर बस स्टॉप बनाने की मांग की। उसके बाद पंचायत समिति सदस्य ने पंचायत समिति स्तर पर 4 वर्ष से ना मिलने वाले 20 प्रतिशत के शेष फंड को भुगतान करने की मांग की। पूर्व पंचायत समिति सदस्य बबन पाटिल ने जूनादुर्खी  गांव में पीने के पानी की समस्या को दूर करने की मांग किया। इसके उपरांत सभा का समापन किया गया।

Post a comment

Blogger