Ads (728x90)

-
प्रदेश कांग्रेस द्वारा केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ राज्य स्तर पर जन संघर्ष यात्रा गत शुक्रवार को भिवंडी पहुंचकर समाप्त हुई।सायंकाल लगभग 6  बजे कल्याण भिवंडी बाईपास स्थित  सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने यात्रा में शामिल राज्य के नेताओं का भव्य स्वागत किया ।भिवंडी बाई पास से मामू भांजा ग्राउंड तक एक विशाल रैली निकाली गई। रैली में, अशोक चौहान ने अपनी खुली कार में खड़े होकर सभी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कांग्रेस के लिए वोट मांगा। इसी प्रकार रैली का कई स्थानों पर, कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नागरिकों ने पूर्व मुख्यमंत्री और उनके कारवां पर फूलों की बारिश कर भव्य स्वागत किया । इस रैली में भिवंडी जिलाध्यक्ष शोएब गुड्डू, तारिक फारूकी, छगन पाटिल,रशीद ताहिर मोमिन ,राकेश पाटिल सहित अन्य नेता भी शामिल थे।
यह रैली मामू भांजा ग्राउंड में पहुंचकर एक विशाल जनसभा में परिवर्तित हो गई।इस विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए, अशोक चौहान ने कहा कि संघर्ष यात्रा समाप्त हुई है लेकिन संघर्ष अभी जारी है।अशोक चौहान ने पावरलूम कपडा उद्योग की दयनीय परस्तिथि पर विस्तार से चर्चा की और आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि जो उद्योग कृषि के बाद सबसे ज्यादा रोजगार उपलब्ध कराता है इसी उद्योग को सरकार ने बर्बाद कर दिया है। यदि वह इस उद्योग को बढ़ावा देते तो देश में कुछ लोगों को बेहतर रोजगार मिलता ।इन्होंने कहा कि पावरलूम उद्योग को कांग्रेस ने हमेशा महत्व दिया है, इसीलिए कांग्रेस के शासनकाल में पावरलूम उद्योग को आपूर्ति की जाने वाली  बिजली एक रुपये प्रति यूनिट दी जाती थी और  बुनकरों के बिजली बिल को 55 प्रतिशत तक माफ कर दिया था। इसी के साथ ही, हमने बुनकरों के बैंक के ऋण को भी माफ कर दिया था। आगे बात करते हुए उन्होंने कहा, "आखिर क्या कारण है कि भिवंडी , मालेगांव और अन्य पावरलूम कपडा उद्योग के शहर बर्बाद होते जा रहे हैं?" उन्होंने  जीएसटी को पावरलूम  उद्योग का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए कहा कि जब से जी एस टी लागू हुई है तब से इस उद्योग की अर्थी निकल गई है तथा चाइना अपना माल यहां डंप करके  हमारे पावरलूम उद्योग में निर्मित कपड़े को चुनौती दे रहा है क्या यही हैं अच्छे दिन।
अशोक चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिए बगैर उनपर व उनकी सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि इस सरकार ने जो सबसे बड़ा अपराध किया है, वह हमारी एकता को बर्बाद करने का किया है, जो देश के लिए एक गंभीर समस्या बनी हुई है है। उन्होंने नारा लगाया है कि  " एक समय था जब हम लड़े थे गोरों से , अब  हडेंगे चोरों से।
वहीं चौकीदार चोर है का नारा लगाते हुए  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर इशारा करते हुए कहा कि इस देश में केवल एक ही चौकीदार चोर है बाकी सभी चौकीदार ईमानदारी से  अपना काम करके हमारी सुरक्षा करते  हैं। उन्होंने देश में बढ़ते मोबलिंचिंग पर कडा प्रहार किया। इसी प्रकार सचिन सावंत ने संबोधित करते हुए कहा कि बड़े अफसोस की बात है कि 70 वर्षों में सबसे छोटा प्रधानमंत्री हमें मिला है। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि हर हर मोदी  घर घर  मोदी की जगह अब थर थर मोदी का नारा लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा कितनी भी ताकत लगा ले कांग्रेस का परचम लहराकर रहेगा। । पूर्व मंत्री  विधायक  आरिफ नसीम खान ने कहा कि इस देश के हिंदू मुसलमानों ने 1947 में एक लड़ाई लड़ी थी।अब इस देश को बचाने के लिए एक लडाई 2019 के चुनाव में लड़ाई लड़ी जाएगी।भिवंडी जिलाध्यक्ष शोएब गुड्डू ने संबोधित करते हुए  भिवंडी में व्याप्त समस्याओं पर प्रकाश डाला और  कहा कि जब भी भाजपा की सरकार आती है, तो पावरलूम उद्योग उद्योग तबाह हो जाता है, जिससे लाखों लोग आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। क्या यही है अच्छे दिन । उक्त विशाल जनसभा में  सांसद हुसैन दलवाई, इब्राहीम भाईजान , बीएम संदीप, मुनाफ हकीम, तारिक फारूकी, छगन पाटिल , शाह आलम शेख, विश्वनाथ पाटिल, राकेश पाटिल , पूर्व सांसद सुरेश टावरे, पूर्व विधायक मोहम्मद अली खान, तुफेल फारूकी, सोहराब खान, हैदर खान आदि नेताओं सहित सभी कांग्रेसी नगरसेवक , अधिकारी व कार्यकर्ता भारी संख्या में उपस्थित थे। उक्त कार्यक्रम का संचालन इकबाल सिद्दीकी ने किया।

Post a comment

Blogger