Ads (728x90)

सहारा पशुओं के चलते किसानों की फसल नुकसान हो रही है इससे निजात दिलाने के लिये शासन ने गोशाला निर्माण कराने का निर्णय लिया है। जिसके तहत आज जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने गो संरक्षण केन्द्र के चिन्हित स्थल महुली ग्रामसभा का निरीक्षण किया। निरीक्षण में जिलाधिकारी ने कहा कि उबड़-खाबड़ जमीन का समतलीकरण कराकर तत्काल अस्थाई छप्पर और पानी की व्यवस्था कराकर वहां विद्युत कनेक्शन भी कराया जाये। उन्होने कहा कि अस्थाई रूप से प्राकृतिक बाड़ बनाकर उसमें चारा और चौकीदार की व्यवस्था करा दी जाये जिससे आवारा पशुओं को अस्थाई रूप से रखा जा सके। स्थल पर प्राकृतिक बाड़ बनाये जाने की कार्यवाही तेजी से निपटाने के निर्देश दिये गये। उन्होने कहा कि चिन्हित स्थल के आस-पास जो भी वृक्ष लगे है उन्हें काटा न जाये जिससे वहां पर छाया बनी रही। ग्रामसभा महुली में गोशाला स्थापना हेतु शासन को प्रस्ताव प्रेषित किया गया है जिसकी स्वीकृति मिलने के बाद उपरोक्त स्थान पर गो-संरक्षण केन्द्र का निर्माण कराया जायेगा। निरीक्षण के दौरान उपजिलाधिकारी सदर सत्य प्रकाश सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी विजय सिंह, तहसीलदार सदर श्रद्धा पाण्डेय, डीजीसी ग्रामसभा विवेक उपाध्याय सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।
------------------
जिला सूचना कार्यालय प्रतापगढ़ द्वारा प्रसारित

Post a comment

Blogger