Ads (728x90)


मुंबई । कुर्ला की जमीन बिल्डरों को देने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ,शिवसेना ने उस घटना से अब तक कुछ सीख नहीं ली। मुंबईकरों की कोई भी आरक्षित जमीन जाने नहीं देने की बात कहने वाली शिवसेना सुधार समिति की सभा में 6 आरक्षित जमीन अपने अधिकार में लेने का निर्णय लेकर मुंबईकरों को फ़साने का काम कर रही है। मनपा के विरोधी दल के नेता रवि राजा ,राकांपा के गटनेता राखी जाधव और सपा के गटनेता रईस शेख ने एक पत्रकार परिषद यह बातें कहीं।
मुंबई महानगरपालिका पत्रकार कक्ष में आयोजित पत्रकार परिषद में रवि राजा शिवसेना पर आरोप लगाते हुए कहा कि सुधार समिति में  जो प्रस्ताव दोबारा भेजा जाता है वह रात के समय सदस्यों को दिया गया है। नियमानुसार 72 घंटे का समय के बाद भी प्रस्ताव पेश किया जाता है। परंतु शिवसेना इन 6 ज़मीनों का प्रस्ताव नामंजूर कर बिल्डरों को देने की योजना बना रही है और जानबूझकर यह खेल खेला जा रहा है। प्रस्ताव पर विरोधी दल के सदस्यों को अपना पक्ष नहीं रखने दिया गया। 38 हजार वर्गमीटर की जमीन,जिसकी कीमत तकरीबन 4 हजार करोड़ रुपये है।यहां पर अतिक्रमण होने के बावजूद इस को प्रस्ताव रिफर बैक करने की सूचना पूर्व महापौर श्रद्धा जाधव ने दी। इसके पहले अनेक अतिक्रमण वाली जमीनों को  कब्जे में लिया। सुधार समिति के अध्यक्ष सबको गुमराह कर रहे हैं।           शिवसेना को मुंबईकरों की अपेक्षा अपनी पार्टी की चिंता है। नियमानुसार आरक्षित जमीन का विकास होना चाहिए। राखी जाधव ने कहा कि बीएमसी में एक सच्चे पहरेदार की भूमिका निभा रहे हैं। रईस शेख ने कहा कि शिवसेना ने जमीन बेचने का सेल काउंटर खोल रखा है। सुधार समिति के अध्यक्ष का  कार्यालय उसका केंद्र है।  शिवसेना पार्टी मुंबईकरों को धोखा दे रही है।इस प्रस्ताव को दोबारा लाने के लिए बीएमसी आयुक्त को निवेदन दिया जाएगा।


नुस्ली वाडियाशी का शिवसेना के साथ मिलीभगत

संबंधित 6 जमीनों में से पांच जमीनें नुस्ली वाडिया के बॉम्बे बॉंबे रियल इस्टेट डेवलपमेंट कंपनी के पास है। इस जमीन पर  रास्ता चौड़ा करना, खेल का मैदान , स्कूल का मैदान,श्मशानभूमि ,कब्रिस्तान के लिए आरक्षित है। उसके बावजूद शिवसेना ने नुस्ली वाडिया से मिलीभगत कर जमीन अपने हाथों से गवा दिया है।

     संजय निरुपम ने मुख्यमंत्री पर कसा तंज

शिवसेना की ओर से 6 आरक्षित जमीनों को अपने कब्जे में न लेने का निर्णय लिया गया। अगर उनके षडयंत्र में भाजपा शामिल नहीं है तो वह यह प्रस्ताव त्वरित रद्द कराए। मुख्यमंत्री   शिवसेना - भाजपा की युति बचाने की अपेक्षा मुंबई के आरक्षित जमीनों को बचाने पर पहले ध्यान दें। यह संजय निरुपम ने कहा।


जमीन          आरक्षण                               क्षेत्रफल वर्गमीटर  गोरेगांव      बगीचे,खेल का मैदान,स्कूल                 7165                               7165


                       

पोइसर          प्राथमिक व माध्यमिक स्कूल           2981       

पोइसर           मनपा स्कूल                                4737

पोइसर             खेल मैदान                             5940             
पोइसर              रास्ता                                     7170             

पोइसर                रास्ता                              11,584     


Post a comment

Blogger