Ads (728x90)

संवाददाता, भिवंडी ।भिवंडी मनपा क्षेत्र में नागरिकों द्वारा गृह कर व जल कर  नियमित रूप से नहीं भर पाने के कारण  भिवंडी मनपा पर आर्थिक बोझ बढ रहा है।इस आर्थिक संकट  से मनपा को बाहर निकालने के लिए व संपत्ति धारकों को बकाया कर जल्द से जल्द भरने के लिए मनपा प्रशासन ने कुछ पूर्व से नागरिकों की सुविधा के लिए " अभय योजना " शुरु की है।उक्त अभय योजना के माध्यम से  शहर के स्थानिक रहिवासी बकाया गृह कर व जलकर पर मनपा प्रशासन द्वारा  आकारणी की गई ब्याज १०० प्रतिशत माफ की जाती थी। इस योजना के अंतर्गत संपत्ति धारकों ने बडे पैमाने पर बकाया कर कााभुगतान किया था जिससे मनपा की तिजोरी में अधिक रकम जमा होने में सहायता मिली थी।परंतु मनपा प्रशासन ने उक्त अभय योजना अब बंद कर दिया है। जिसकारण संपत्ति धारकों में तीव्र नाराजगी पाई जा रही है और नागरिकों के असंतोष में बढ़ोतरी हुई है। नागरिकों के इस प्रकार के असंतोष को संज्ञान में लेते हुए नराष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी के भिवंडी शहर जिलाध्यक्ष शेख खालिद गुड्डू ने मनपा प्रशासन से नागरिकों के लिए सुविधाजनक  अभय योजना जल्द से जल्द  शुरु करने की मांग मनपा आयुक्त मनोहर हिरे  को ज्ञापन देकर की है। यदि आठ दिनों में हमारी मांग मनपगं प्रशासन ने भीरता से न लेते हुए पूरा नहीं किया तो  मनपा प्रशासन के विरोध में  " हल्ला बोल " मोर्चा निकाला जाएगा। भिवंडी शहर के पावरलूम व्यवसायी पूर्व पांच वर्षों से मंदी की मार झेल रहे हैं। अनेेक पावरलूम उद्योग बंद हैं, पावरलूम उद्योग पर आधारित अनेक छोटे मोठे उद्योग भी बंद हो गए हैं इसलिए शहर में बडे पैमाने पर मंदी का साया फैला हुआ है जिसकारण नागरिकों पर आर्थिक संकट निर्माण हुुआ है।विशेष रूप से अभय योजना के पश्चात वर्षों से संपत्ति कर न भरने वाले बकायाा संपत्ति धारकों ने अपने कर का भुगतान कर सकते थे।इसलिए मनपा प्रशासन को बडे पैमाने पर आर्थिक फायदा भी हुआ है।इसलिए नागरिकों के लिए आवश्यक  अभय योजना मनपा प्रशासन जल्द से जल्द शुरु करे इस प्रकार की मांग राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी भिवंडी शहर जिलाध्यक्ष शेख खालिद गुड्डू ने मनपा प्रशासन से की है। यदि  आठ दिनों में हमारी मांग पूरी नहीं की गई तो मनपा प्रशासन के विरोध में " हल्ला बोल " मोर्चा निकाला जाएगा। उक्त प्रकार की चेतावनी शेख खालिद गुड्डू ने प्रेस विज्ञप्ति में मनपा  प्रशासन को दी है। 

Post a comment

Blogger