Ads (728x90)

मीरजापुर। आवास योजना का लाभ लेते हुए  उच्च और संपन्न घराने के लोगों का नाम तो आपने सुना होगा, लेकिन यदि कोई जीवित व्यक्ति अपने आप को मृत खाकर  आवास योजना का लाभ लेने का प्रयास करता हो तो थोड़ा अटपटा लगता है। लेकिन जी हां ! यह सच है। जिगना थाना क्षेत्र के बता गांव की महिला प्रधान ने पुलिस और उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र देकर  ऐसे ही एक मामले में कार्यवाही किए जाने की मांग की है।  बताया जाता है कि छानबे क्षेत्र के बौता विशेश्वर सिंह गांव में कबीर दास जो अपने आप को आवास न मिलने के कारण मृतक बता रहा है। जिलाधिकारी समेत अन्य अधिकारियों को भी सूचना दिया है। अखबारों में छपवा रहा है आज के लिए हुआ है  हर जहां  दौड़ लगा रहा है। जबकि उसकी हकीकत कुछ और ही होनी बताई जा रही है। इस संबंध में महिला ग्राम प्रधान कृष्णावती देवी ने थाने में तहरीर दिया है कि कबीर दास मृतक नहीं है बल्कि कागजों में हेराफेरी करके नाजायज लाभ लेना चाहता है। उन्होंने बताया है कि उसके घर में फोर्स की नौकरी करने वाले हैं। वह आवास योजना का पात्र व्यक्ति नहीं है। थाना जिगना में उसके द्वारा गलत सूचना देना, हेरा फेरी करने के बावत ने तहरीर दिया है| जिगना पुलिस  कृष्णावती देवी के प्रार्थना पत्र पर आगंतुक पर्ची संख्या 686 पर दर्ज करके आरोपी कबीर दास की जांच पड़ताल करने में जुट गए हैं। ग्राम प्रधान कृष्णावती देवी ने उच्च अधिकारियों को भी प्रार्थना पत्र देकर गुहार लगाई है की सत्यता की जांच की जाये।

Post a comment

Blogger