Ads (728x90)

सोन साहित्य संगठन तथा मीडिया फोरम के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित हुआ गणेश शंकर विद्यार्थी जयंती समारोह पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यो के लिए कलम कारों को किया गया सम्मानित

मीरजापुर। पत्रकारिता समाज में एक बदलाव लाने का सशक्त माध्यम है। एक समय रहा जब किसी समय पत्रकारिता ने भारत को अंग्रेजी दासता से मुक्ति दिलाने का कार्य किया था जिसमें देश के अनेक स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के साथ कलम की धार का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। जिसे कदापि नहीं भुलाया जा सकता है। दुःखद है कि मौजूदा दौर में पत्रकारिता के स्तर में जो गिरावट आई है वह बेहद ही चिंतनीय होने के साथ सोचनीय भी है। उक्त सारगर्भित विचार एनटीपीसी रिहंद के राजभाषा एवं जनसंपर्क अधिकारी मिथिलेश कुमार श्रीवास्तव के हैं। वह शुक्रवार को वनांचल की धरती सोनभद्र में मीडिया फोरम ऑफ़ इंडिया (न्यास) जिला इकाई सोनभद्र एवं सोनू सहित संगठन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित गणेश शंकर विद्यार्थी जयंती समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि गणेश शंकर विद्यार्थी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक निडर नेता होने के साथ-साथ निष्पक्ष पत्रकार भी थे जिन की लेखनी आबू गलती थी तो कलम तलवार की धार से भी तेज चलती थी जिन्होंने अंग्रेजी हुकूमत की तमाम यातनाओं के बाद भी अपनी कलम की डोर को डिगने नहीं दिया था। वरिष्ठ पत्रकार मिथलेश द्विवेदी ने कहा कि पत्रकारिता आज भी प्रासंगिक है जिस की उपयोगिता और निष्पक्षता नकारा नहीं जा सकता है हालांकि कुछ बदलाव हुए हैं जिनकी वजह से पत्रकारिता का दामन कहीं न कहीं से कलंकित हो जाया करती है, लेकिन संपूर्ण पत्रकारिता के मिशन पर उंगली नहीं उठाया जा सकता है आज भी ऐसे सशक्त कलाकारों की कमी नहीं है जो पत्रकारिता के प्रति सर्वत्र रूप से न्योछावर होने के साथ इसकी मिशन और मर्यादा को बनाए हुए हैं। वक्ताओं के क्रम में विशिष्ट अतिथि प्रदीप नारायण राय, सनोज तिवारी, राजेश तिवारी, ओमप्रकाश मिश्रा, संपादक एसपी पांडे, दीपक केसरवानी इत्यादि प्रमुख लोगों ने भी संबोधित करते हुए पत्रकारिता के इतिहास पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डालते हुए नवोदित पत्रकारों के लिए पत्रकारिता में होने वाले उतार-चढ़ाव तथा रिपोर्टिंग के दौरान उत्पन्न विभिन्न प्रकार के समस्याओं से निपटने का सरल राह भी सुझाया। कार्यक्रम के दौरान सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि संगठन द्वारा प्रतिवर्ष पत्रकारिता के महापुरुष पंडित गणेश शंकर विद्यार्थी जी के जन्म दिवस अवसर पर एक पत्रकार को गणेश शंकर विद्यार्थी अवार्ड से नवाजा जाएगा। वरिष्ठ पत्रकार साहित्यकार शिक्षक तथा कार्यक्रम का कुशल संचालन कर रहे ओम प्रकाश मिश्रा जी को स्मृति चिन्ह एवम अंगवस्त्रम प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान वक्ताओं ने सोनभद्र की प्राकृतिक वन संपदाओं तथा यहां के ऐतिहासिक धार्मिक विधाओं का वर्णन करते हुए कहा कि आज दुःख होता है कि जब इस धरती का नाम गिट्टी और बालू तथा इसको लेकर होने वाले विभिन्न अपराधों से जोड़कर इस जनपद का नाम लिया जाता है। वक्ताओं ने सभागार में उपस्थित कलम कारों को इससे बचते हुए सोनभद्र के ऐतिहासिक वह भाग्य का वर्णन करने की बात करते हुए इसके ऐतिहासिक स्वरूप का भी विस्तार से वर्णन किया कहां सोनभद्र की माटी में जो है वह किसी अन्य जगहों पर देखने को नहीं मिलता है बस कमी इस बात की है कि इसका सटीक ढंग से वर्णन नहीं होता है। कार्यक्रम के अंत में जनपद सोनभद्र के निवासी तथा यहीं से एक फोटोग्राफर के रूप में पत्रकारिता जीवन का सफर प्रारंभ करने वाले तृप्त चौबे के आकस्मिक निधन तथा चोपन नगर पंचायत अध्यक्ष इश्तियाक अहमद हत्या पर गहरा दुःख प्रकट करते हुए 2 मिनट का मौन रख मृतक आत्माओं की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की गई। इस दौरान सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि जनपद के निवासी तथा मिर्जापुर में हिंदुस्तान के ब्यूरो चीफ रहे तृप्त चौबे के परिजनों को समस्त पत्रकार जन अपने अपने अंश से एकत्र कर सहयोग राशि प्रदान करेंगे ताकि उनके परिवार की सहायता हो सके इसी क्रम में यह भी निर्णय लिया गया कि जो कि वह मान्यता प्राप्त पत्रकार थे। ऐसे में शासन स्तर से भी उन्हें शासकीय सहायता दिलाने के साथ साथ उनकी बेटी को शासकीय सेवा में लिए जाने की मांग की जाएगी बताया गया कि मध्य प्रदेश सहित कुछ और राज्यों में मान्यता प्राप्त पत्रकारों के परिजन को शासकीय सेवा में लिए जाने का प्रावधान है इसके लिए भी संगठन द्वारा शासन से मिलकर इस पर विचार करने का निर्णय लिया गया। का शुभारंभ मां सरस्वती के प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित कर तथा गणेश शंकर विद्यार्थी के प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर प्रारंभ किया गया। इस मौके पर ज्ञानदास कनौजिया, दीपक केसरवानी, नीरज पाठक, राजेश गोस्वामी, प्रमोद गुप्ता, संतोष देव गिरि, संजय कुमार सिंह इत्यादि सहित सैकड़ों की संख्या में पत्रकार और साहित्यकार उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता चंद्रमणि शुक्ला ने तथा संचालन ओम प्रकाश मिश्रा ने किया। कार्यक्रम के अंत में पत्रकारिता के प्रति समर्पित कलम कारों को अंगवस्त्रम एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वालों में मीडिया फोरम आफ इंडिया के जिला अध्यक्ष राजेश गोस्वामी, नीरज पाठक, ज्ञानदास कनौजिया, संजय सिंह राजगढ़ मिर्जापुर, दीपक केसरवानी, सनोज तिवारी, मिथिलेश प्रसाद द्विवेदी, प्रमोद गुप्ता, प्रदीप नारायण राय जी, संतोष देव गिरी, भोलानाथ इत्यादि सहित सैकड़ों पत्रकार शामिल रहे हैं।

Post a comment

Blogger