Ads (728x90)

मीरजापुर। हलिया विकास खंण्ड में ग्राम सभा के गुणवत्ता हीन कार्य,वित्तीय अनियमितता,शौचालय निर्माण, आदि की जांच की माँग करने पर ग्राम प्रधान स्वयम् सहित अपने खास चहेतो द्वारा धमकी देने की बात प्रकाश में आई है।शिकायत कर्ताओ का कहना है कि ग्राम प्रधानो का ईलाका पुलिस से नजदीकी होने के कारण उनके इशारे पर तत्काल सक्रियता दिखाते हुए दबाव भी बनाया जाने लगता है।इस सम्बन्ध मे शिकायतकर्ता प्रदीप,वृहस्पति, वाहिद,शाकिब,आदि का कहना है कि प्रधानो द्वारा शिकायत वापस लेने का दवाव बनाते हुए नही मानने पर फर्जी,यस सीयसटी,महिला दुराचार,जैसे अनेक मुकदमो मे फसाने की धमकी दी जाती हैं।सूत्रो की मानी जाय तो कुछ लोग आत्मरक्षार्थ सक्षम अधिकारियो से गुहार भी लगा चुके हैं।
         बताते चलें कि कुछ ग्राम प्रधान तो खबर लगाने पर मीडिया पर भी मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दे डाले है। खबर से आक्रोशित कुछ प्रधान स्थानिय मीडिया को धमकी भी दे चुके है । शिकायत कर्ताओ को धमकी देना  कोई नयी बात नहीं है।ईसके पुर्व कुछ प्रधानो द्वारा शिकायत करने वालो के विरुध्द महिला बदसूलूकी, दुराचार, यससी यसटी का फर्जी अभियोग भी दर्ज कराया जा चुका है। बीट आरक्षी भी ग्राम सभा के बचाव करते अक्सर  पाये गये।कुछ आरक्षी तो प्रधान के नित्य के दरबारी भी जनता द्वारा बताये जाते हैं।इस सम्बन्ध मे हलिया विडियो  दीनदयाल का कहना है ग्राम सभा के कार्यो के गुणवत्ता की जाँच, शिकायत करने का का अधिकार सभी नागरिको को है।ऐसे धमकाना, मानहानि की धमकी देना गलत है।

Post a comment

Blogger