Ads (728x90)


बिहार :::समस्तीपुर जिले के स्थित डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के प्रथम वर्ष के छात्रों के साथ रैगिंग करने सनसनी मामला प्रकाश में आया है जानकारी के मुताबिक कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग के छात्र आशीष मिंज  के साथ किए गए रैगिंग के कारण गत 14 अक्टूबर को उसकी तबीयत बिगरी जो कि मध्य प्रदेश का है। जिन्हें इलाज के लिए समस्तीपुर स्थित एक निजी क्लीनिक डॉ डीके शर्मा के यहां भर्ती किया गया । जहां डॉक्टर ने स्पाइनल में क्रेक आने की बात बताई यह क्रैक इसलिए हुआ की द्वितीय वर्ष के छात्रों द्वारा रैगिंग के कर्म में गर्दन को इस तरह रखने को विवश किया की । उसके स्पाइनल प्रभावित हो गया ठीक इसी प्रकार लगभग 40 छात्रों के विच आतंक और दहशत का माहौल बना हुआ है कि प्रत्येक रात 2:00 से 3:00 बजे तक रात में अभद्र व्यवहार, अश्लील वीडियो ,गाली-गलौज,पढ़ाई में बाधा डालना और अन्य कई तरह के यातना डाला जाता है और डराया जाता है। जब इस बात की शिकायत की जाती है तो उस पर कोई करवाई नहीं की जाती है हॉस्टल में खाने पीने की व्यवस्था भी कॉलेज प्रशासन की तरफ से भी नहीं होता बल्कि वैसे छात्रों द्वारा मेष का प्रबंध किया जाता है । जिनके आतंक से प्रथम वर्ष के छात्रों की तबीयत खराब होती जा रही है। सबसे बड़ी बात यह है कि हॉस्टल में गांजा और शराब का सेवन द्वितीय वर्ष के छात्रों द्वारा सेवन की जाती है जबकि बिहार में पूर्व रूप से प्रतिबंध है कैसे विश्वविद्यालय में ब्लॉक नंबर 3 के सबसे ऊपर इंजीनियरिंग छात्रों के द्वितीय छात्र के बीच कैसे उपलब्ध होती है यह एक गंभीर विषय है । प्रथम वर्ष के छात्रों द्वारा शिकायत किए जाने के बावजूद के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन मौन है किसी छन अप्रिय घटना होने से इनकार नहीं किया जा सकता है । हिंदुस्तान की आवाज समस्तीपुर बिहार राजकुमार रॉय

Post a comment

Blogger