Ads (728x90)

पटना:: बिहार के 40 लोकसभा क्षेत्र में 20 नए चेहरे भारतीय जनता पार्टी के नए उम्मीदवार उतारे जाने की चर्चा दिल्ली से पटना तक है .सूचना के अनुसार अधिकांश सांसद अपने-अपने क्षेत्रों में जनता का विरोध  होने के कारण  पार्टी को मोदी के इज्जत बचाने के लिए नए उम्मीदवार उतारने को विवश होना पड़ रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चुनावी वादा पूरा नहीं किए जाने के कारण जनता भी धूल चटाने की तैयारी कर चुकी है प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा सांसद द्वारा अपने क्षेत्र में एक पंचायत को गोद लेने से लेकर विकास काम में वादाखिलाफी करने के कारण व्यापक विरोध का सामना करना पड़ रहा है .यही हालात बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार में Roti Kapda Aur Makaan के स्थिति उत्पन्न होने के कारण आम जनता इन्हें सबक सिखाने के लिए कटिबद्ध है .पूरे बिहार में करीबन 5000000 से अधिक घरों में भोजन प्रसाद उत्पन्न होने से पूरा बिहार सुलग गई है .जानकारी के मुताबिक पूरे बिहार में निर्माण कार्य बाधित होने से मजदूरों की स्थिति भुखमरी की कगार पर है ना केवल मजदूरों की हालत है  बल्कि प्राथमिक विद्यालय से लेकर संबंध डिग्री कॉलेजों के शिक्षकों के वेतन तथा अनुदान समय पर नहीं दिए जाने के कारण बच्चों की पढ़ाई, इलाज, शादी विवाह सभी प्रभावित हो रहे हैं .पूरे बिहार में गिट्टी बालू में काम करने वाले मजदूर को खाने के लिए समस्या उत्पन्न हो गई है. दिल्ली से लेकर बिहार में मजदूरों की हालत बिगड़ती जा रही है वही बड़े-बड़े धंधा क्षेत्रों की स्थिति काफी मजबूत होती जा रही है किसान .छात्र . बेरोजगार युवक ,मेहनतकश मजदूर की हालत दिनोंदिन बिगड़ती जा रही है यही है एनडीए की सरकार मैं अच्छे दिन. राजकुमार राय स्थान की आवाज बिहार पटना 9 4:00 31 फोर जीरो 626 दो

Post a comment

Blogger