Ads (728x90)

भिवंडी। एम हुसेन ।पूर्व सन 2016 में दिवाली के समय सानुग्रह अनुदान की राशि की मांग को लेकर काम बंदकर हड़ताल करने वाले भिवंडी निजामपुर शहर महानगरपालिका के प्रशासकीय विभाग व आरोग्य विभाग के कर्मचारियों के 13 दिन के काटे गए वेतन को देने के लिए मनपा आयुक्त मनोहर हिरे ने हरी झंडी दे दी है। जिससे मनपा कर्मचारियों में भारी खुशी  व्याप्त है।
                 मनपा कर्मचारियों के काटे गए वेतन का भुगतान कराने के लिए  संघर्ष कर रहे लेबर फ्रंट यूनियन व भारतीय कामगार संघटना तथा अन्य कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने बताया कि मनपा की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण कर्मचारियों के काटे गए वेतन को एकमुश्त न देकर 3 महीने में दिए जाने का निर्णय लिया गया है। जिसके अनुसार जुलाई में 4 दिन का वेतन, अगस्त महीने में 4 दिन का वेतन तथा सितंबर महीने में 5 दिन का वेतन इस प्रकार कुल 13 दिन के वेतन का भुगतान कर्मचारियों को किया जाएगा ।कर्मचारियों के वेतन की मांग को लेकर संघर्षरत रही कर्मचारी यूनियनों को आखिरकार सफलता प्राप्त हो गई। जिसके लिए सभी कर्मचारियों और उनके संगठनों ने मनपा आयुक्त मनोहर हिरे का आभार व्यक्त किया है ।गौरतलब हो कि भिवंडी निजामपुर शहर महानगरपालिका में प्रशासकीय विभाग और आरोग्य विभाग को मिलाकर कुल 4500 अधिकारी व कर्मचारी कार्यरत हैं । मनपा की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण पूर्व सन 2016 में कर्मचारियों अधिकारियों को समय पर वेतन नहीं मिल पा रहा था। जिसके लिए कर्मचारियों अधिकारियों ने सन 2016 में दिवाली के समय सानुग्रह अनुदान देने की मांग यूनियनों के माध्यम से की थी। लेकिन तत्कालीन आयुक्त ने सानुग्रह अनुदान देने से मना किया था ।जिससे नाराज होकर  कर्मचारियों और अधिकारियों ने 30 अक्टूबर से 11 नवंबर 2016 तक कुल 13 दिन तक काम बंदकर हड़ताल  पर चले गए थे। इस बीच ठाणे जिला अधिकारी कार्यालय ने बीच मे आकर सानुग्रह अनुदान की रकम देने का वादा किया था। लेकिन वादा पूरा नहीं किया गया। जिससे  कर्मचारियों ने अंधेरे में दीवाली मनाई थी ।इसके लिए 13 दिन के काटे गए वेतन को देने की मांग को लेकर कर्मचारियों से जुड़ी सभी यूनियनों ने कृति सीमित बनाकर लगातार 2016 से कर्मचारियों के अधिकार व काटे गए वेतन को दिलाने की लड़ाई लड़ रहे थे। अंततः उन्हें सफलता प्राप्त हुई ।

Post a comment

Blogger