Ads (728x90)

 सिवनी नगर पालिका को नगर निगम एवं केवलारी व घंसौर पंचायतों को नगर पंचायत का दर्जा दिलाए जाने हेतु आवश्यक प्रक्रिया आरंभ करने की मांग से संबंधित दो पत्र भाजपा जिला अध्यक्ष राकेश पाल जी द्वारा जिला कलेक्टर की ओर प्रेषित किए गए हैं । अपने पत्र में श्री पाल ने लिखा है कि  केवलारी व घंसौर पंचायतों में वर्तमान में जनसंख्या बढने के साथ क्षेत्र का तेजी से विस्तार हुआ है और पंचायतों के सीमा से लगे हुऐ ग्राम पंचायत क्षेत्रों तक पंचायती आबादी का भवन निर्माण हो रहा है। जिससे आबादी की बसाहट का क्षेत्र काफी विस्तारित हो चुका है।
श्री पाल ने लिखा है कि,पंचायत की सीमा से निकटस्थ ग्राम पंचायतों तक भवन व आवास निर्माण कार्य लम्बे समय से हो रहे हैं। बढती आबादी के साथ पचायत की सीमा के विस्तार की आवश्यकता महसूस की जा रही है।
श्री पाल ने लिखा है कि,इस विषय पर आम जन द्वारा हमेशा से ही मांग की जाती रही है कि घंसौर एवं केवलारी पंचायती क्षेत्र को नगर परिषद बनाया जावे ताकि पंचायती क्षेत्र का विस्तार व्यवस्थित रूप से हो सके। क्षेत्र विकास, क्षेत्र सौंदर्यीकरण, रोजगार, बसाहट, व नये बाजार, कालोनी, व शासकीय संस्थानों सार्वजनिक संस्थानों हेतु नये भूमि भवन का निर्माण व विस्तार हो सके।
   श्री पाल ने लिखा है कि, घंसौर एवं केवलारी पंचायती क्षेत्र से लगी हुई निकटस्थ ग्राम पंचायतों व ग्रामो व राजस्व ग्रामों की सीमाओं को घंसौर एवं केवलारी पंचायती क्षेत्र में समाहित करते हुऐ घंसौर एवं केवलारी पंचायतों को नगर परिषद बनाऐ जाने के संबंध में उचित कार्यवाही प्रारंभ की जाये।
भाजपा मीडिया प्रभारी श्रीकांत अग्रवाल ने बताया कि इसी तरह सिवनी नगर पालिका को नगर निगम का दर्जा दिए जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही प्रारंभ करने की मांग के साथ पिछले दिनों एक पत्र जिला कलेक्टर को सौंपा था जिसमें श्री राकेश पाल सिंह द्वारा लिखा गया है कि, जिला मुख्यालय के सिवनी नगर पालिका परिषद के अन्तर्गत आनेवाले क्षेत्र में कुल 24 वार्ड हैं। वर्तमान में सिवनी नगर की जनसंख्या बढने के साथ नगर पालिका क्षेत्र का तेजी से विस्तार हुआ है। और नगर पालिका परिषद सिवनी के सीमा से लगे हुऐ ग्राम पंचायत क्षेत्रों तक नगरीय आबादी का भवन निर्माण हो रहा है।
   श्री पाल ने लिखा है कि,जैसा कि ज्ञात हो कि सिवनी शहर के पश्चिम में रानी दुगार्वती वार्ड और कस्तूरबा वार्ड से ग्राम पंचायत मरझोर की सीमा लगी हुई है। तथा दक्षिण व दक्षिण पूर्व नगरीय शहीद वार्ड व विवेकानंद वार्ड की सीमा पर ग्राम पंचायत डोरली छतरपुर की सीमा लगी हुई है। इसी क्रम में नगर के उत्तर व उत्तर पूर्व में स्थित अकबर वार्ड व शास्त्री वार्ड में ग्राम पंचायत मानेगांव व कोहका तथा नगर के महारानी लक्ष्मी बाई वार्ड एवं अकबर वार्ड की सीमा से ग्राम पंचायत लूघरवाडा व बीझावाडा ग्राम की सीमाऐं लगी हुई हैं। नगर के अन्य वार्डों में महामाया व पृथ्वीराज चैहान वार्ड से ग्राम पंचायत परतापुर की सीमा प्रारंभ हो जाती है तथा कबीर वार्ड की सीमा से लगी ग्राम पंचायत छिरिया पलारी एवं तिलक वार्ड से ग्राम पंचायत खैरी की सीमा शुरू हो जाती है।
   श्री पाल ने लिखा है कि,नगर पालिका की सीमा से निकटस्थ ग्राम पंचायतों तक भवन व आवास निर्माण कार्य लम्बे समय से हो रहे हैं। बढती शहरी आबादी के साथ नगर पालिका की सीमा के विस्तार की आवश्यकता महसूस की जा रही है।
  श्री पाल ने लिखा है कि,इस विषय पर आम जन द्वारा हमेशा से ही मांग की जाती रही है कि सिवनी नगर पालिका क्षेत्र को नगर निगम बनाया जावे ताकि नगरीय क्षेत्र का विस्तार व्यवस्थित रूप से हो सके। क्षेत्र विकास, नगर सौंदर्यीकरण, रोजगार, बसाहट, व नये बाजार, कालोनी,  व शासकीय संस्थानों सार्वजनिक संस्थानों हेतु नये भूमि भवन का निर्माण व विस्तार हो सके।
श्री पाल ने पत्र में लिखा है कि, सिवनी नगरपालिका क्षेत्र से लगी हुई निकटस्थ ग्राम पंचायतों व ग्रामो व राजस्व ग्रामों की सीमाओं को नगर पालिका सिवनी के क्षेत्र में समाहित करते हुऐ सिवनी नगर पालिका को नगर निगम बनाऐ जाने के संबंध में उचित कार्यवाही करने की प्रारंभ की जाये।

Post a comment

Blogger