Ads (728x90)

भिवंडी,हिन्दुस्तान की आवाज,एम हुसेन

संवाददाता, भिवंडी । भिवंडी शहर व आसपास के क्षेत्रों में संचालित प्रदूषणकारी डाईंग व सायजिंग द्वारा होने वाले प्रदूषण के विरोध में आरपीआय सेक्युलर की ओर से महाराष्ट्र प्रदेश प्रमुख सचिव एडवोकेट  किरण चन्ने के नेतृत्व में शुक्रवार को मिठपाडा स्थित पार्टी कार्यालय से भिवंडी प्रांत कार्यालय तक " नागरिक जीवन बचाओ " मोर्चा का आयोजन किया गया था।उक्त अवसर पर नागरी बस्ती में अवैध रूप से संचालित डाईंग व सायजिंग के विरुद्ध कार्रवाई करने हेतु एड.किरण चन्ने ने प्रदूषण नियंत्रण मंडल व महसूल विभाग के अधिकारियों को गंभीरता से लेते हुए प्राणघातक डाईंग व सायजिंग तत्काल प्रभाव से बंद कराने की मांग की है।  मोर्चाकारियों का रौद्ररूप देखते हुए प्रदूषण व महसूल विभाग द्वारा अवैध रूप से संचालित डाईंग व सायजिंग कंपनियों के विरुद्ध आगामी सात दिनों में कार्रवाई करने के लिए  आश्वासन दिया है। प्रांत अधिकारी की अनुपस्थिति में तहसील आपूर्ति विभाग के नायब तहसीलदार प्रकाश पाटिल ने ज्ञापन स्वीकार किया।उक्त अवसर पर रिपाई शिष्टमंडल ने महसूल ,पुलिस ,प्रदूषण नियंत्रण मंडल , हरित न्यायाधिकरण सहित राज्य के मुख्य सचिव को ज्ञापन पहुंचाने के लिए ज्ञापन प्रांत कार्यालय के हवाले किया। उक्त मोर्चे में सेक्युलर ग्रामीण के जिला सचिव सुजित जाधव,कार्याध्यक्ष दिनेश जाधव ,भिवंडी शहर अल्पसंख्यक अध्यक्ष सलीम सिद्धिकी,शेलार विभाग प्रमुख अमोल तपासे,शेलार शाखा अध्यक्ष विनोद पंडित ,मिठपाडा शाखा अध्यक्ष आकाश सालुंखे ,निलेश जाधव आदि सहित रिपाई सेक्युलर के सैकडो कार्यकर्ता ,महिला व पुरुष भारी संख्या में सहभागी हुए। भिवंडी शहर से सटे खोणी व शेलार इन दोनों ग्रामपंचायत सीमांतर्गत शिवकृपा सिंथेटिक प्रा.लि.,शिवओम इंटरप्रायजेस,जे.जे.फॅब्रिक प्रा.लि.,जय अंबे प्रोसेसर,सनविन इंडस्ट्री प्रा.लि.,इनविल कन्सल्टंट व ट्रेडर्स प्रा.लि.,शारदा यार्न डाईंग प्रा.लि., शत्रुंजय डाईंग,सायकोन सिंथेटिक व कॉटन डाईंग प्रा.लि.,वालचंद यार्न इंडस्ट्रीज,इसटेस पॉलिकोट,खेमिसती प्रोसेसर ,कोटविन टेक्स्टाईल डाईंग ( इंडिया ) प्रा.लि.,धनलक्ष्मी डाईंग व त्रिशूल प्रोसेसर प्रा.लि.इस प्रकार कपडा डाईंग कंपनी संचालित हैं और शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग ११० से अधिक कपडा डाईंग कंपनी नागरी बस्ती में संचालित हैं हैं। उक्त डाईंग कंपनियों से निकलने वाले केमिकल मिश्रीत विषारी वायु प्रदूषण के कारण क्षेत्र के स्थानिक नागरिकों आंख, फेफडा व श्वास संबंधी बीमारियों से प्रभावित होने के कारण स्थानिक नागरिकों के जीवन को धोखा निर्माण हुआ है।इसी प्रकार उक्त डाईंग से शहर से सटे कामवारी नदी में केमिकल मिश्रीत पानी छोडे जाने से कामवारी नदी का प्रदूषित हो गया है जिसकारण केमिकल यक्त पानी से खोणी ,काटई ,कांबे ,जूनांदुर्खी ,टेंभवली,खारबांव ,गाणे ,फिरिंगपाडा ,वडूनवघर ,कारिवली डुंगे आदि गांवों के किसानों की उपजाऊ भूखंड बनजर हो रही है। डाईंग कंपनियों द्वारा प्राणघातक व मनमर्जी कार्यभार के विरुद्ध प्रदूषण नियंत्रण मंडल व महसूल विभाग के समक्ष स्थानिक नागरिकों ने अनेकोबार शिकायत की है परंतु इनकी शिकायत पर जानबूझकर दुर्लक्ष किया जाारहा है। अनेक डाईंग मालिकों ने डाईंग कंपनी निर्माण किया है परंतु आवश्यकता नुसार शासकीय परवानगी न लिया है इस प्रकार का आरोप किरण चन्ने ने उक्त मोर्चे के समय लगाते हुए महसूल विभाग,प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अधिकारी व स्थानिक नेताओं से आर्थिक व्यवहार के चलते अच्छे संबंध हैं इस प्रकार आरोप एडवोकेट किरन चन्ने लगाया है। नागरी जीवन बचाने के लिए यहां संचालित प्रदूषणकारी डाईंग व सायजिंग कंपनियों को हटाए जाने की  प्रमुख मांग ज्ञापन में किरण चन्ने ने की है।उक्त अवसर पर नागरिकों को हानि पहुंचाने वाली डाईंग तत्काल प्रभाव से बंद करने का आश्वासन  देते हुए आगामी सात दिनों में सभी अवैध व प्रदूषणकारी डाईंग व सायजिंग पर कार्रवाई करने के लिए आश्वासन महसूल व प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अधिकारियों ने दिया है। उक्त अवसर पर  एडवोकेट किरण चन्ने ने कहा कि यदि " महसूल व प्रदूषण मंडल के अधिकारियों ने उक्त डाईंग व सायजिंग कंपनियों पर कार्रवाई करने के आश्वासन दिए जाने के अनुसार  सात दिनों में कार्रवाई नहीं की तो आरपीआय सेक्युलर द्वारा तीव्र आंदोलन शुरू किया जाएगा।

Post a comment

Blogger