Ads (728x90)

उन्नाव हिन्दुस्तान की आवाज़  मोहित मिश्रा

स्थानीय थाना पुलिस ने आज गौवध अधिनियम के तहत दर्ज मुकदमें में दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता प्राप्त की है, पुलिस ने अभियुक्तों को जेल भेजकर फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी शीघ्र ही करने का दावा किया है।
  विदित हो कि फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के अन्तर्गत ऊगू नगर पंचायत के कोटेदार राधेश्याम शुक्ला के यूकेलिप्टिस के बाग में गायें बंधी होने की सूचना उजागर होने पर देर शाम ऊगू पुलिस चौकी प्रभारी सुबोध यादव के साथ नगर पंचायत ऊगू के चेयरमैन अनुज दीक्षित आदि सहित लगभग एक दर्जन लोग उक्त बाग में बंधी गायों को ढूंढने गये थे।जहाँ बाग की पश्चिम दिशा में दो गाय और एक बछड़ा वहाँ बंधा मिला था, पुलिस ने आनन फानन साथ पहुँचे लोगों की मदद से गायों को खुलवाकर सुरक्षित किया। वहीं पुलिस ने कुशल रणनीति के तहत बाग में ही डेरा डाल दिया, जहाँ देर रात दो बाइकों से कुछ लोग बाग के पास आये पुलिस एवं वहाँ मौजूद ग्रामीणों ने पल भर भी बिना रुके घेरा बनाकर  उनको पकड़ने की कोशिश की परन्तु वह सब अंधेरा का फायदा उठाकर भाग गय थे। पुलिस ने भाग रहे लोगों की एक लाल काली पल्सर बाइक यू.पी.35 पी 3913 दबोच ली साथ गौकशी के औजार और तराजू  बाँट भी पुलिस के कब्जे में आ गये थे। पुलिस ने गत १६ जून को अज्ञात लोगों के विरुद्ध गौ अधिनियम के तहत मामला पंजीकृत किया था। पुलिस ने बरामद बाइक के आधार पर अभियुक्तों की तलाश शुरू कर दी थी, जिसमें आज थाना पुलिस ने ऊगू चौकी प्रभारी के नेत्रत्व में क्षेत्र के सैंता गाँव तिराहे के पास से अकरम पुत्र गुलाम निवासी  असई आट थाना कासिमपुर जनपद हरदोई एवं अकरम पुत्र सफीक नसीमगंज कस्बा व थाना बांगरमऊ  गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्तों को जेल भेजने के साथ पुलिस ने दावा किया फरार अभियुक्त भी शीघ्र ही पालि की गिरफ्त में होंगे। बताया जाता है कि गिरफ्तार अभियुक्तों की सैंता गाँव में किसी के यहाँ रिस्तेदारी है। सबसे मजेदार बात यह है गौरक्षा वाहिनी के जिलाध्यक्ष भी सैंता गाँव के निवासी हैं। सैंता गाँव के पास से अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर तरह तरह की चर्चाएँ है।

Post a comment

Blogger