Ads (728x90)

घंसौर में जोरदार स्वागत, डड़ई मंदिर में तापी धूनी

नर्मदा स्वच्छ साफ रहे, निर्मल बहती रहे इसलिए जरूरी है कि नर्मदा में सबसे पहले रेत खनन पर रोक लगे, नर्मदा में रेत का खनन रोकने हम जल्द ही एक अभियान चलाएंगे तथा नर्मदा में अब किसी भी हाल में खनन नहीं होने देंगे उक्ताशय  की बात घंसौर  पहुंचे नामदेव दास त्यागी महाराज उर्फ कंप्यूटर बाबा ने आयोजित धार्मिक कार्यक्रम के दौरान कही, उन्होंने कहा कि कल के बाद हम इस मामले में सक्रिय हो रहे हैं नर्मदा के अलावा कुआं, बावली, तालाब आदि जल स्रोतों में पानी अधिक समय तक रुके इस दिशा में काम कर रहे हैं समाज की सेवा करने के साथ ही ऐसा काम कर रहे हैं जिससे संत समाज खुश रहे, कंप्यूटर बाबा 23 मई की शाम लगभग 8:30 बजे घंसौर के खेरमाई मंदिर पहुंचे जहां उनका जोरदार स्वागत किया गया खेरमाई मंदिर से होकर घोड़े और बग्घी पर संतो को संवार कर यात्रा निकाली गई, जो प्रमुख मार्गो से होते हुए श्रीराम मंदिर पहुंची जहां पूजन पाठ उपरांत कंप्यूटर बाबा और दंदरौआ सरकार तथा योगेंद्र महंत जी ने उपस्थित जनों को आशीर्वचन सुनाए। कंप्यूटर बाबा ने रात्रि विश्राम डड़ई हनुमान मंदिर में किया सुबह नर्मदा दर्शन के लिए छिंदवाहा के तट पर पहुंचे सुबह 11:00 बजे गंगा दशहरा के अवसर पर उनका धूनी ताप प्रारंभ हुआ इस कठिन तप को देखकर उपस्थित धर्मावलंबी हदप्रद रह गए चारों तरफ आग का घेरा बनाकर विगत कई वर्षों से वे यह घोर तप कर रहे हैं यह धूनी तप उनकी नित्यक्रिया में शामिल है डड़ई हनुमान मंदिर परिसर में उनके आगमन की जानकारी होने पर बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे जहां पूजन पाठ और भंडारा आयोजित किया गया कंप्यूटर बाबा लगभग 2:00 बजे मंडला की ओर रवाना हो गए विगत एक सप्ताह से कंप्यूटर बाबा के आगमन की तैयारियों को लेकर लोगों में भारी उत्साह देखा जा रहा था वहीं बाबा के साथ बड़ी संख्या में साधु संतों का जमावड़ा घंसौर में लग गया कंप्यूटर बाबा को राज्य सरकार द्वारा राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है उनके साथ पंडित योगेंद्र महंत महामंडलेश्वर राज्य मंत्री, दंदरौआ सरकार, खड़ेशरी महाराज, वेद भारती महाराज सहित अन्य पूज्य साधु संत भी पहुंचे डड़ई हनुमान मंदिर आश्रम को प्रमुख ठाकुर अनमोल दास जी महाराज और आश्रम के प्रवक्ता शक्ति सिंह, व्यवस्थापक सुभाष यादव, पंडित विजय तिवारी, मंच संचालक  सुधीर सारंग सहित घंसौर एवं केवलारी सहित आसपास के डड़ई आश्रम से जुड़े प्रमुख जनों ने धार्मिक अनुष्ठान में पहुंचे साधु संतों का जोरदार स्वागत किया।

Post a comment

Blogger