Ads (728x90)

पीलीभीत में आज दिनांक 27-05-2018 को पूर्व की भाॅति से अलग जिलाधिकारी महोदय श्री अखिलेश मिश्रा के आवास ‘‘श्वेत सदन‘‘ पर विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने अपने दादा-दादी, नाना-नानी के साथ ‘‘रूद्राक्ष दर्शन‘‘ एंव ‘‘श्वेत सदन‘‘ का भ्रमण किया। इस अवसर पर श्रीमती वन्दना त्रिवेदी उपजिलाधिकारी अमरिया एवं श्रीमती पुष्पा देवरार उपजिलाधिकारी कलीनगर के द्वारा ‘‘रूद्राक्ष दर्शन‘‘ एंव ‘‘श्वेत सदन‘‘ के बारे में विस्तार से बच्चों व उनके साथ आये वृद्व परिजनों को जानकारी दी गयी। इसके अतिरिक्त बच्चों को जिलाधिकारी का आवास व कार्यालय किस प्रकार कार्य करता है, के बारे में भी बताया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी महोदय ने ‘‘रूद्राक्ष दर्शन‘‘ के लिये आये दादा दादी व नाना नानी व बच्चों सम्बोधित करते हुये कहा कि आज प्रद्यौगिकी युग में परिवार के बुजुर्ग व बच्चों के रिश्तों में दूरिया बढती जा रही है बच्चें दादा दादी के पास न बैठकर कार्टून, मोबाइल व टीवी में व्यस्त रहते है इस बात पर बुजुर्ग भी ध्यान नहीं दे रहें। इस ‘‘रूद्राक्ष दर्शन‘‘ में आप सभी को बुलाने का उददे्श्य यह है कि आप सभी अपने बच्चों को नियमित समय दें व अपने पूर्वजों के बारे में भी बतायें व छोटी-छोटी नैतिक कहानियाॅ सुनायें व प्रतिदिन बच्चों को आस पास हो रही घटनाओं के बारे में भी जानकारी दें जिससे बच्चों का लगाव आपके प्रति बढे़ और बच्चों को नई-नई बातें सिखने को मिलें।

इस अवसर पर जिलाधिकारी महोदय के पिताजी ने बुजुर्गों को सम्बोधित करते हुये कहा कि आप सब बच्चों को छोटी-छोटी बातें सिखाकर एक अच्छा नागरिक बना सकतें है और आपके बच्चें आपकी शिक्षा पर बहुत आगे तक प्रगति कर सकतें है। उन्होनें बच्चों को भी समझाया कि उन्हें अपने दादा दादी का सम्मान करना चाहिये, उनकी हर बात माननी चाहिये तथा रोज दादा दादी से कहानियाॅ सुनाने का अनुरोध करना चाहिये। जिलाधिकारी महोदय ने संवाद के दौरान बच्चों व बुजुर्ग से कुछ प्रश्न भी पूछे, जिन बच्चों व बुजुर्गों द्वारा प्रश्नों के सही जवाब दिया गया, उन्हें जिलाधिकारी महोदय ने पुरस्कार स्वरूप ‘‘रूद्राक्ष‘‘ उपहार स्वरूप भेंट किये गये। अन्त में बच्चों व बुजुर्गों को सूक्षम जलपान कराया गया

Post a comment

Blogger