Ads (728x90)

उन्नाव हिन्दुस्तानकीआवज़  मोहित मिश्रा

कोतवाली हसनगंज क्षेत्र में शौच के लिये गयी महिला को दिन दहाड़े धार दार हथियार से हमला कर किसी अज्ञात ने मौत के घाट उतार दिया। मृतका को हत्यारों ने खेतों में बनी कोठरी में फेंक कर भाग निकले किसी बच्चे की सूचना पर परिजनों ने आनन-फानन सी एच सी हसनगंज लाये। जहाँ पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। सी एच सी पर पुलिस पहुंच कर शव कब्जे में लेकर पी एम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। हसनगंज कोतवाली क्षेत्र के तेगापुर निवासी किशन पाल की पत्नी शान्ती 35 वषॅ पूर्वाह्न ग्यारह बजे घर से शौच के लिए खेत पर गयी थी।

तभी विवाहिता के साथ सामूहिक बलात्कार की कोशिश के बाद किसी धारदार हथियार से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। तथा साक्ष्य मिटाने के लिए मृतका को उठाकर सुंदर लाल के खेतों में बनी कोठरी में फेंक कर फरार हो गए। तभी कोई मोहल्ले के लड़के ने विवाहिता पड़ा देख परिजनों को बताया। जिस पर परिजनों ने आनन-फानन घटना स्थल पर पहुंच कर विवाहिता को सी एच सी हसनगंज लाये। जहाँ पर डाक्टर अमन व डा गौरव ने मृत घोषित कर दिया।

ग्रामीणों में विवाहिता की धारदार हथियार से हत्या किये जाने को लेकर सामूहिक बलात्कार करने के बाद पहचान साक्ष्य मिटाने के लिए मौत के घाट उतार देने की आम चर्चा बनी हुई है। मृतका की बड़ी पुत्री कोमल 13 वर्ष व मुस्कान 5 वर्ष है। तथा पीड़ित पति केशन पाल ने पुलिस को बयान में कहा कि मेरी व मेरी पत्नी की कोई रंजिश नहीं है। लेकिन शौच के लिए गयी महिला के साथ दुष्कर्म का विरोध या फिर पहचान होने की वजह से धार दार हथियार से हत्या करने में अज्ञात के खिलाफ कोतवाली हसनगंज में तहरीर एफआईआर दर्ज करायी है।मालूम हो कि मृतका का मायका औरास थाने के हसनपुर बयारी गांव का है। मृतका के जेठ मुन्नालाल की हत्या में देवर दुलारे मुख्य हत्यारा है।

न्यायालय से भाई की हत्या में सजायाफ्ता है उच्च न्यायालय की अपील पर परिवार सहित दिल्ली में रह रहा था। लेकिन बुधवार को अकेले गांव आया था। जबकि भतीजा सरवन 2016 में गांव की ही एक मूक बाधिर लड़की के साथ बलात्कार में जेल गया था अभी तीन माह पहले ही जेल से छूट कर आया था। जिससे अपराधिक प्रवृत्ति के परिवार पर किसी नजदीकी द्वारा हत्या करने के सवालिया निशान पर पुलिस ने भी खोजबीन शुरू कर दी है।दिन दहाड़े शौच के लिए गयी विवाहिता की धार दार हथियार से बेखौफ हत्या को अंजाम दिये जाने पर पुलिस को खुली चुनौती मिल गयी है। एक दिन पहले ही पुलिस इंस्पेक्टर ने अपराध कम करने का दावा कर कुसीॅ संभाली थी।

कोतवाली निरीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि मृतका के पति की तहरीर पर अज्ञात हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। हत्या के कारणों का पी एम रिपोर्ट के बाद ही स्पष्ट होगा। उसके तहत पुलिस कार्रवाई करेगी। जबकि सीओ डा भीम कुमार गौतम ने परिजनों को ढाढ़स बंधा कर बताया कि विवाहिता की हत्या के कारणों की गहन जांच कर हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। पीएम रिपोर्ट आने के बाद हत्या दुष्कर्म के बाद की गई है स्पस्ट हो जायेगा।

Post a comment

Blogger