Ads (728x90)

भिवंडी,हिन्दुस्तान की आवाज,एम हुसेन

भिवंडी ।  कल्याण रोड पर पूर्व तीन बार विस्तारीकरण के नाम पर तोडक कार्रवाई की जा चुकी है परंतु दुकानधारकों को आज तक मुआवजा नहीं दिया गया है। अब शासन व भिवंडी मनपा प्रशासन की ओर से मेट्रो के पांच प्रोजेक्ट के नाम पर कल्याण रोड के दोनों तरफ से सडक विस्तारीकरण अधिक विस्तारीकरण करने के निर्णय के विरुद्ध कल्याण रोड व्यापारी व रहिवासी संघर्ष समिति द्वारा भिवंडी प्रांताधिकारी कार्यालय के सामने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। उक्त अवसर पर संघर्ष समिति के शादाब उस्मानी, दीन मोहम्मद खान, सुधाकर अंचन, नईम खान, हमीद मोमिन, यूसुफ शोलापुरकर,राम लाहारे, अमीन खान, जब्बार शेख, महमूद मोमिन,मुजाहिद शेख,  बाबू भाई पटेल सहित अन्य सदस्यों ने भूख हड़ताल में  भाग लिया। उक्त अवसर पर पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व दो वर्षों से कल्याण रोड को मनपा प्रशासन द्वारा डीपी के नाम से टार्गेट किया जा रहा है। समाचार पत्रों में विज्ञापन के माध्यम से नोटिस जारी कर भिवंडी मनपा ने कल्याण रोड के दोनों तरफ अधिक 20, 20 फिट विस्तारीकरण करने के लिए कल्यान रोड स्थित दुकानदारों व मकान मालिकों नोटिस जारी किया है जिसकारण क्षेत्रीय लोगों का आर्थिक बर्बादी होने से रीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित हैं तथा मनपा प्रशासन के विरुद्ध भारी आक्रोश व्याप्त है। संघर्ष समिति ने  आरोप लगाते हुए कहा कि  भिवंडी मनपा सीमांतर्गत पुराने भिवंडी के अधिकांश क्षेत्रों में भिवंडी शहर के चारों ओर 2003 के स्वीकृत डीपी के अनुसार न तो कभी  सडक का विस्तारीकरण हुआ और न ही रोड का विस्तारीकरण हुआ। जबकि पूर्व 20 वर्षों में कल्याण रोड क्षेत्र में यातायात बाधित होने की समस्या बताकर तीन बार सडक का विस्तारीकरण किया जाचुका है। और कल्याण रोड की सडकों स्थित दुकानों व मकानों को तोडा गया परंतु प्रभावितों को आज तक किसी प्रकार का कोई भी मुआवजा व आर्थिक सहायता नहीं दी गई। उक्त विस्तारीकरण के कारण कल्याण रोड का 8 मीटर चौड़े रोड को 24 मीटर कर दिया गया है। जिसके कारण वहां के बहुत से दुकान केवल 5 से  10 फिट ही बची है और यहां के दुकानदार व मकान मालिक बहुत ही दयनीय  स्थिति में अपने सपरिवार सहित जीवन यापन करने के लिए मजबूर है। एमएमआरडीए की ओर से कल्याण रोड राजीव  गांधी चौक से लेकर कल्याण रोड साईबाबा तक लगभग साढे तीन किमी लंबा उड्डानपुल निर्माण कार्य भी इसी रोड पर जारी है । और लगभग 70 प्रतिशत निर्माण कार्य हो चुका है। अब इसी रास्ते से मेट्रो रेल पांच का रूट तय कर के भिवंडी मनपा प्रशासन ने रोड को अधिक दोनों तरफ  20, 20 फिट रोड चौड़ा करने हेतु नोटिस जारी कर दिया है जिसकारण क्षेत्र की जनता मानसिक तनाव में हैं। संघर्ष समिति के सदस्यों ने बताया कि अधिक रूप से मानसिक तनाव के कारण ही हमने प्रशासन के विरुद्ध तीव्र अभियान शुरू कर भूख हड़ताल किया है। इसी के साथ चेतावनी दी है कि यदि हमारी मांग पूरी नहीं हुई तो हम सामूहिक आत्महत्या करने के मार्ग को चुनेंगे।वहीं  इन्होंने ने मांग की है कि जिस प्रकार से नागपुर की सडक का विस्तारीकरण न करते हुए चार मंजिला उड्डानपुल का निर्माण कर इसी मार्ग से ट्रेन, मेट्रो रेल तथा उड्डानपुल भी तैयार किया गया है। इसी आधार पर कल्याण रोड मेट्रो रेल पांच व उड्डानपुल निर्माण किया जाए तथा किसी भी डीपी को मंजूर करते समय यहां की जनता को विश्वास में लिया जाए ताकि भिवंडी की गरीब व असहाय  जनता इससे  प्रभावित न हो अन्यथा अपनी मांगों को मनवाने के लिए संघर्ष समिति उग्र आंदोलन करेगी।भिवंडी प्रांताधिकारी डॉ संतोष थिटे ने संघर्ष समिति के शिष्टमंडल को उक्त समस्याओं का समाधान करने के लिए हरसंभव प्रयास करने का  आश्वासन दिया है। 

Post a comment

Blogger