Ads (728x90)

नवाबगंज क्षेत्र में दो व मगतखेड़ा इलाके में एक जगह आग लगने से हजारों रुपए की फसल जलकर राख हो गई वहीं पांच मवेशी भी जलकर मर गए।
जहांगीराबाद ग्राम पंचायत के मजरा बरेला में तीन घरों में लगी आग से लाखों का सामान जलकर राख हो गया वहीं पांच मवेशी जलकर मर गए। दिनेश, सोनू एवं हीरालाल के घर में शाम को सभी लोग खेत पर गेहूं काटने गए थे। तभी अचानक दिनेश के मकान से आग की लपटें उठने लगी। तेज हवा के चलते आग ने पड़ोस के सोनू और हीरालाल के घर को भी चपेट में ले लिया। जिसमे लाखों का सामान जलकर राख हो गया। सोनू और हीरालाल के घर मे बंधी चार बकरी व एक पड़वा सहित पांच मवेशी की जलकर मौत हो गई। प्रधान शशांक शुक्ल ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी । जब तक फायर ब्रिगेड की गाड़ियां पहुंचती उससे पहले ग्रामीणों ने आग पर काबू पा लिया।
दूसरी आग की घटना चमरौली के मीतखेड़ा निवासी रवींद्र पाण्डेय के खेत में हाईटेंशन लाइन की गिरी चिंगारी से दो बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। सप्लाई बंद करने के लिए पावर हाउस जेई को फोन मिलाया गया, लेकिन फोन नही उठा। फायर ब्रिगेड पहुंचने से पहले ग्रामीणों ने अपने बूते आग पर काबू पा लिया। खेत के ऊपर से हाईटेंशन लाइन निकली है। बीती रात हवा तेज चलने से तार आपस में चिपक का स्पार्क करने लगे। इससे निकली चिंगारी से खेत में आग लग गई। जब तक लोग आग बुझाते दो बीघा फसल जलकर राख हो चुकी थी। पंकज पांडेय ने बताया लगातार पावर हाउस व जेई को फोन मिलाते रहे, लेकिन उठाया नहीं। एसडीओ को सूचना मिलते ही सप्लाई बंद कराया। तब आग पर काबू पाया जा सका।

Post a comment

Blogger