Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन। भिवंडी मनपा एवं ग्रामीण  क्षेत्र  के कोरोना  क्रमित मरीजों के  उपचार  के लिये 100 बेड वाले आईजीएम उपजिला अस्पताल को कोविड 19 का अस्पताल बनाया गया है। लेकिन कोरोना मरीजों के  उपचार  की आवश्यक सुविधायें न होने के कारण भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है ।अस्पताल की विभिन्न समस्याओं को लेकर विधायक रईस कासम  शेख ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव का ध्यान आकर्षित किया था। विधायक शेख के अनुरोध पर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ स्वास्थ्य एवं प्रशासकीय अधिकारियों की टीम ने भिवंडी के कोविड 19 अस्पताल का दौरा करके जायजा लिया।
  उल्लेखनीय है कि मनपा आयुक्त डॉ. प्रवीण आष्टीकर के आदेश पर भिवंडी के इकलौते सरकारी अस्पताल आईजीएम उपजिला अस्पताल को कोविड 19 का अस्पताल बना दिया गया है।100 बेड वाले इस अस्पताल में 20 बेड आईसीयू के लिये एवं 80 बेड आइसोलेशन के लिये रखा गया है। अस्पताल में मात्र चार वेंटीलेटर की सुविधा है,जबकि अस्पताल में कम से कम 16 वेंटीलेटर की आवश्यकता है । 
   विधायक रईस  शेख ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव से कहा है कि आईजीएम उपजिला अस्पताल को कोविड 19 अस्पताल बनाये जाने के बाद उसमें  उपचार  कराने के लिये आने वाले मरीजों के लिये शहर के ऑरेंज अस्पताल,लॉट्स हॉस्पिटल एवं एसएनसीयू विभाग को इन निजी अस्पतालों में सुविधा दी गई है। विधायक शेख ने प्रधान सचिव से कहा है कि कोविड 19 के उपचार के लिये बनाये गये आईजीएम उपजिला अस्पताल में सुविधाओं का काफी अभाव है। जिसमें ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की अति  आवश्यकता है ।
    विधायक रईस  शेख ने प्रधान सचिव,अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं मनपा आयुक्त को दिये गए पत्र में कहा है कि आईजीएम उपजिला अस्पताल में 200 बेड की क्षमता के अनुसार वर्ग एक से चार में 358 कर्मचारियों की कमी है, जिसमें  केवल 74 कर्मचारी कार्यरत हैं। विधायक  ने जल्द से जल्द कर्मचारियों को भेजने की मांग की है ।
   इसके अलावा आईजीएम उपजिला अस्पताल में केंद्र सरकार के निर्देशानुसार कम तेज लक्षण वाले मरीजों के लिये सीसीसी प्रभाग उपलब्ध नहीं है, भिवंडी की जनसंख्या के अनुसार सीसीसी में 2000 बेड की आवश्यकता है। जबकि यहां एक बेड भी नहीं है। सीसीसी प्रभाग के लिये तुरंत निर्माण करके स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की आवश्यकता है। अस्पताल में 12 वेंटीलटर तत्काल प्रभाव से  उपलब्ध कराया जाये। आईजीएम उपजिला अस्पताल में इस समय चार वेंटीलेटर एवं फोर सी- पीएपी उपलब्ध कराकर उसका उपयोग डीसीएच के लिये उपयोग किया जाये। भिवंडी शहर में अभी तक डीसीएचसी की नियुक्ती नहीं की गई है,जिसके लिये कम से कम 20 से 25 बेड के ऑक्सीजन की आपूर्ति तत्काल कराया जाये ।         


Post a comment

Blogger