Ads (728x90)

भेलसर(अयोध्या)कोरोना संकट में अपनों के पास पहुचने की आस में जुटे प्रवासी मजदूरों के साथ हो रही सड़क दुर्घटना में तहसील रूदौली क्षेत्र के दो अलग-अलग गांव के प्रवासी मजदूरों की शहर से गांव लौटते वक्त सड़क दुर्घटना में  मौत हो गई।सड़क हादसे में मौत की सूचना पर गांव पहुचे विधायक रामचंद्र यादव ने  दोनों शवों को मंगाने के लिए संबंधित जिलों के डीएम व एसपी से वार्ता की है।साथ ही दोनों मृतक के परिवार को दो-दो लाख रुपए की आर्थिक मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है।
मवई थाना क्षेत्र के सुखनंदन का पुरवा मजरे बड़ेला की 85 वर्षीय वृद्ध महिला रमरता के साथ हुई जो सूरत से घर आते वक्त शनिवार को कानपुर के पास संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की शिकार हो गई।वही दूसरी घटना पकड़िया गांव निवासी बाबादीन कोरी के साथ हुई जो दिल्ली से पैदल ही घर लौट रहा था।लेकिन शनिवार की शाम मथुरा जनपद के कोसी थाना क्षेत्र में एक सड़क हादसे में मौत हो गई।सूचना परिजन को मिली तो कोहराम मच गया।घटना की सूचना बीडीसी सीमा यादव ने विधायक रामचन्द्र यादव को दी।तब विधायक ने दुःख जताते हुए परिवारीजनों के प्रति गहरी शोक संवेदना प्रकट की है। विधायक ने कहा की मुख्यमंत्री की ओर से घोषित मृतक आश्रित को दो लाख रुपए की आर्थिक सहायता के अलावा भी परिवार के भरण-पोषण हेतु अलग से आर्थिक मदद दिलाया जाएगा।मथुरा जिले के जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से दूरभाष पर बातकर कामगार के शव उसके पैतृक गांव भिकवाने के लिए कहा है। विधायक ने  बताया कि शव पोस्टमार्टम के बाद एम्बुलेंस से मृतक के पैतृक गांव पकड़िया गांव आएगा।




Post a comment

Blogger