Ads (728x90)

भिवंडी ।एम हुसेन। कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को रोकने के लिए लॉक डाउन किया गया है जिसकारण इस स्तिथि में सभी पुलिस  यंत्रणा कोरोना वायरस के बढते संक्रमण  को रोकने के लिए सतर्क है जिसकारण आपराधिक घटनाएं घटित हो रही हैं।इसी क्रम में भिवंडी तालुका पुलिस स्टेशन सीमांतर्ग  एल जी कंपनी के टीवी मोबाईल एलसीडी  जमा  गोदाम में  घरफोडी करके  लगभग 40 लाख 50 हजार 935 रुपये माल चोरी कर फरार होने की घटना  घटित हुई है।परंतु  ठाणे ग्रामीण पुलिस  अंतर्गत स्थानिक अपराध  शाखा पथक के पुलिस को उक्त आपराधिक  घटना के दो आरोपियों को हिरासत में लिया है और उनके पास से लगभग 34 लाख 60 हजार 439 रुपये का  माल हस्तगत करने में सफल हुए हैं। 
         पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार  भिवंडी तालुका पुलिस स्टेशन सीमांतर्ग  वडपे  क्षेत्र स्थित  जी कॉम लॉजीस्टिक्स प्रा लि का गोदाम है   जिसमें  एल जी कंपनी के एलसीडी ,टीवी ,मोबाईल जमा रखा  जाता ।इस समय पुलिस  यंत्रणा कोरोना वायरस व्यस्त  को रोकने के लिए 22 अप्रैल से रात के समय गोदाम  के  पीछे बगल का शटर तोडकर गोदाम से कीमती  एलसीडी ,टीवी ,मोबाईल इस प्रकार 40 लाख 50 हजार 935 रुपये का माल  चोरी  होने मामला  का प्रकाश में आया है।उक्त  प्रकरण में  तालुका पुलिस स्टेशन ने  मामला दर्ज कर लिया  था ,इस  मामले की विस्तृत जांच भिवंडी तालुका पुलिस व स्थानिक  अपराध  शाखा  के  पथक की  समांतर  स्तर पर करते हुए  स्थानिक अपराध शाखा के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक व्यंकटेश आंधले  ने  गोदाम परिसर के  सभी सीसीटीवी की जांच की  और उन्होंने गुप्त सूचना  द्वारा जानकारी  लेने का  प्रयत्न किया। जिसके अनुसार  मूल निवासी  शहापूर तालुका के घेगाव  स्थित सफलता प्राप्त हुई  और विजय डोंगरे  निवासी .अंबाडी ता.भिवंडी व योगेश केशव पाटील  निवासी .परशुराम पाडा ,दाभाड ता .भिवंडी इस प्रकार  संशयित  नाम प्रकाश में आया  । सहायक पुलिस निरीक्षक परशुराम लोंढे ने  अपने  पथक  के साथ  दोनों को धर दबोचा और हिरासत में ले लिया  ,  और इनसे गहन पूछताछ की तो इन्होंने अपना ज़ुर्म  स्वीकारते हुए परशुराम पाडा स्थित  योगेश पाटील ने पुराने  घर में रखे हुए 3 एलसीडी ,251 मोबाईल व अपराध में उपयोग की गई बोलेरो टेम्पो इस प्रकार कुल 34 लाख 60 हजार 439 रुपये का माल  हस्तगत करने में  सफलता प्राप्त हुई है।उक्त  दोनों  आरोपियों को न्यायालय ने ३० अप्रैल तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है इस प्रकार की जानकारी स्थानिक अपराध  शाखा के  वरिष्ठ पुलिस  निरीक्षक व्यंकटेश आंधले ने दी है ।
        

Post a comment

Blogger