Ads (728x90)

संवाददाता,भिवंडी। अंतर्राष्ट्रीय बाल मजदूर निषेध दिन के अवसर पर राष्ट्रीय बाल मजदूर प्रकल्प ठाणे के तत्वाधान में भिवंडी के बाल मजदूर स्कूल विशेष प्रशिक्षण केंद्र द्वारा जनजागृति के लिए एक रैली निकाली गई। जिसमें शामिल बच्चे आधी रोटी गाएंगे  फिर भी स्कूल जाएंगे का नारा लगा रहे थे। यह रैली धामनकर नाका से शुरू होकर पटेल कंपाउंड,नारपोली स्थित साईप्रसन्न सोसायटी मार्ग होते हुए वरालादेवी उद्यान पहुंची जहां छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया।
 उक्त अवसर पर राष्ट्रीय बाल मजदूर प्रकल्प ठाणे के प्रकल्प संचालक तथा सदस्य सचिव सहदेव पवार ने ठाणे जिला में व्याप्त बाल मजदूरों के कुप्रथा से मुक्ति दिलाने के लिए सरकारी स्तर पर विभिन्न योजनायें चलाई जा रही है। बाल मजदूरों को समाज के मुख्य धारा में लाने के लिए ही जनजागृति रैली का आयोजन किया गया था।| रैली प्रकल्प कार्यक्रम व्यवस्थापिका प्रियंका चालके,शारदा मोहिते,अक्काताई कांबले,चंदा चटर्जी,किशोर पाटिल,एम.आई.खान,अरुण बोंबे,संध्या सोनालकर,संजय निर्भवने,सविता भोईर सहित सामाजिक संस्था बिहार झारखंड सेवा समिति,क्रांति ज्योति महिला मंडल,नवजीवन लोकविकास संस्था,सर्वात्मता सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था,शंखेश्वर महिला मंडल,जागृति महिला मंडल के बाल मजदूर विशेष प्रशिक्षण स्कूल  लगभग सवा दो सौ छात्र शामिल थे।


Post a comment

Blogger