Ads (728x90)

लड़की की मां,भाई एवं पीड़ित लड़की पुलिस की हिरासत में तथा दूल्हा  फरार।

 संवाददाता, भिवंडी ।नारपोली पुलिस की सतर्कता से चलते अंजुरफाटा स्थित साठेनगर क्षेत्र में होने वाला एक बाल विवाह रुक गया। पुलिस ने बाल विवाह करने वाली लड़की की मां एवं भाई को हिरासत में ले लिया है, लेकिन पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान मौक़ा पाकर दूल्हा विवाह के मंडप से ही फरार होने में सफल हो गया।
  पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार बुलढाना पुलिस द्वारा नारपोली पुलिस को सूचना प्राप्त हुई थी कि शुक्रवार को भिवंडी में एक अल्पवयीन लड़की का बाल विवाह होने वाला है। जिसके लिए उन्होंने बाल विवाह कराने वाली अल्पवयीन लड़की की मां का मोबाइल नंबर दिया था। नारपोली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मालोजी शिंदे ने मोबाइल के लोकेशन के आधार पर पता लगाया कि अंजुरफाटा के पास स्थित साठेनगर में विवाह का मंडप लगाया गया है, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मालोजी शिंदे ने मोबाइल से लोकेशन मिलते ही तत्काल पुलिस दल को रवाना कर दिया। साठेनगर पहुंचते ही पुलिस की टीम ने देखा कि लड़की का परिवार आनन-फानन में विवाह कराने में जुटा हुआ है। पुलिस ने बाल विवाह कराने वाली अल्पवयीन लड़की की मां नीलाबाई उर्फ़ संगीता रमेश पवार एवं लड़की के भाई दिलीप रमेश पवार सहित  लड़की को हिरासत में ले लिया है। पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान मौक़ा पाते ही कालवार गांव का रहने वाला अल्पवयीन दूल्हा अक्षय मेढेकर फरार हो गया है।     
  नारपोली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मालोजी शिंदे ने बताया कि बुलढाना महिला व बाल कल्याण समिति ने इस बाल विवाह के मामले में तहसीलदार से शिकायत की थी। जिसके बाद बुलढाना के तहसीलदार ने इसकी जानकारी वहां के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कांबले को दिया था, जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कांबले ने इसकी जानकारी उन्हें दी थी। उन्होंने बताया कि बुलढाना पुलिस के आने के बाद तीनों लोगों को बुलढाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया जाएगा।
   ज्ञात हो कि पीड़ित लड़की के पिता रमेश पवार का लगभग पांच महीने पहले मौत हो गई थी, पीड़ित लड़की अपनी मां के साथ बुलढाना में रहती थी। उसका भाई भिवंडी के साठेनगर में रहने वाली अपनी बुआ के यहां रहता था, जिसके कारण उसने अपनी अल्पवयीन बहन का विवाह कालवार गांव के अक्षय मेढेकर के साथ कराने की योजना बनाई थी, लेकिन विवाह के ऐन मौके पर पहुंछकर नारपोली पुलिस ने बाल विवाह होने से रोक दिया और उक्त लोगों को हिरासत में ले लिया है। 

Post a comment

Blogger