Ads (728x90)


शिर्डी, दि. 3 : महाराष्ट्र की उद्योगप्रेमी नीतियां और औद्योगिक विकास के विभिन्न कानूनों में सुधार करने से राज्य के विदेशी निवेश में वृद्धि हो रही है और देश के कुल निवेश में 49 प्रतिशत निवेश राज्य में हुआ है, यह प्रतिपादन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस इन्होंने आज यहां व्यक्त किया।

            पारनेर तहसील के सुपा औद्योगिक वसाहत के मायडीया टेक्नॅालॅाजी कोनशिला के अनावरण समारोह के समय वे बोल रहे थे। कार्यक्रम को उद्योगमंत्री सुभाष देसाई, मायडीया ग्रुप के संस्थापक शींग झिआन, अध्यक्ष पॉल फंग, मायडीया ग्रुप के उपाध्यक्ष एरिक वांग, क्षेत्रीय व्यवस्थापकीय संचालक कृष्णन सचदेव, सांसद दिलीप गांधी, विधायक शिवाजीराव कर्डीले, बाळासाहेब मुरकुटे, मुख्यमंत्री कार्यालय के अतिरिक्त मुख्य सचिव प्रवीणसिंह परदेशी, उद्योग सचिव सतीश गवई, एमआयडीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पी. एन. अन्बलगन आदि उपस्थित थे।

            मुख्यमंत्री ने कहा कि, मायडीया टेक्नॅालॅाजी पार्क के कारण सुपा और पारनेर क्षेत्र में रोजगार निर्माण के लिए बढ़ावा मिलनेवाला है। इस इलाके में औद्योगिक विकास के लिए आवश्यकता के अनुरूप कुशल और क्षमता से परिपूर्ण काम करनेवाला मनुष्यबल उपलब्ध है। चीन के उद्योगों के लिए राज्य में आवश्यक जगहों को उपलब्ध कर दिया जाएगा।  इसके कारण चायनिज क्लस्टर विकसित करने के लिए मदद मिलेगी, यह भी उन्होंने बताया।  राज्य में विदेशी उद्योजकों को उद्योग स्थापित करने के लिए सभी तरह की मदद भी की जाएगी, यह भी कहा।

            आगे मुख्यमंत्री ने कहा कि, औद्योगिक सुधारों के कारण महाराष्ट्र विदेशी उद्योजकों का पसंदीदा जगह बन गई है। वैश्विक बैंक ने घोषीत किये हुए व्यापार सुलभता निर्देशांक में भारत अब 142 वे स्थान से 77 वे स्थान पर पहुंच गया है। यह आज तक का सबसे ऊंचा स्थान है जिसमें महाराष्ट्र का योगदान अधिक रहा है।  इन नीतियों के कारण उद्योगों के लिए कोई भी तकलीफ न हो इस लेकर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसलिए भविष्य में अधिक-से-अधिक विदेशी निवेश राज्य में होगा, यह विश्वास उन्होंने व्यक्त किया।

            सुपा यहां उद्योग स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री ने मायडीया के व्यवस्थापना को धन्यवाद दिए। जिले के स्थानीय लोकप्रतिनिधी भी उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए और परिक्षेत्र के रोजगारवृध्दि के लिए उद्योगों को सहायता करने के भूमिका निभाएं। इसके कारण और भी उद्योग इस परिक्षेत्र में आने के लिए अतुर रहेंगे, यह भी उन्होंने कहा।

            एमआयडीसी के माध्यम से सभी उद्योगों को सहायता करने की और उनकी समस्याओं को दूर करने की राज्य सरकार की भूमिका है, यह भी उन्होंने स्पष्ट किया। उद्योगमंत्री श्री. देसाई इन्होंने मायडीया उद्योग समूह ने महाराष्ट्र में निवेश करने की पसंद दर्शाने पर उनके आभार व्यक्त किए। इस उद्योग के माध्यम से स्थानीय स्तर पर रोजगार निर्माण होनेवाले हैं। चीन और जापान जैसे देशों ने राज्य में निवेश करने के लिए पसंद दर्शायी है।  अन्य देश भी निवेश के लिए आगे आ रहे हैं, यह भी उन्होंने कहा।

            सांसद गांधी इन्होंने भी बडा उद्योग जिले में आने पर आनंद व्यक्त किया।

कार्यक्रम का प्रास्ताविक एवं आभार प्रदर्शित श्री. सचदेव इन्होंने किया।

            इससे पहले मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का सुपे औद्योगिक वसाहत में हेलिपॅड पर स्वागत किया गया। इस समय विशेष पुलिस महानिरीक्षक चेरिंग दोरजे, मुख्य कार्यकारी अधिकारी विश्वजीत माने, अपर जिलाधिकारी भानुदास पालवे, पुलिस अधीक्षक रंजनकुमार शर्मा आदि उपस्थित थे।

            साथी ही कंपनी के स्थान पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस इन्होंने कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बातचीत की।

Post a comment

Blogger